Follow us:

गुजरात में दो दिन में 10 महिलाओं की चोटी कटी, सीआईडी क्राइम को जांच

अहमदाबाद। गुजरात के अलग-अलग शहरों में दो दिन में 10 महिलाओं की चोटी काटने की घटना सामने आई है। इससे राज्य भर की महिलाओं में डर का माहौल है। मामले की गंभीरता को देखते हुए राज्य सरकार ने चोटीकांड की जांच सीआईडी क्राइम को सौंपी है।

राज्य के गृहमंत्री प्रदीप सिंह जाडेजा ने शनिवार को राज्य पुलिस महानिदेशक गीता जौहरी से इस मुद्दे पर चर्चा की, जिसके बाद पुलिस महानिदेशक गीता जौहरी ने कहा कि इस प्रकार की घटनाओं से महिलाओं में डर का माहौल पैदा हुआ है। जिन जिलों में इस प्रकार की घटना हुई है वहां के डीसीपी खुद मामले की छानबीन कर रहे हैं। इसके अलावा सीआईडी क्राइम को भी जांच करने का आदेश दिया गया है।

उत्तर भारत व राजस्थान के बाद अब गुजरात में महिलाओं की चोटी काटी जा रही है। अहमदाबाद, सूरत, राजकोट, भरुच, कच्छ, मेहसाणा सहित कई शहरों में इस प्रकार की घटना सामने आई है। अधिकांश घटनाएं रात के समय हुई हैं।

महिलाओं का कहना है कोई औरत उनके पास आती है और इसके बाद वे बेहोश जाती हैं। होश में आने के बाद उनकी चोटी कटी हुई मिलती है। चोटी काटने को लेकर पुलिस के पास भी कोई सबूत नहीं है। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, प्रदेश में इस प्रकार की घटनाओं में एक बात समान है कि चोटी कटने के बाद महिला बेहोश हो जाती है। हालांकि महिलाओं की चोटी कौन काट कर रहा है, इस बारे में कोई सुराग नहीं मिल पा रहा है।