Follow us:

क्रिश्चियन मिशेल के प्रत्यर्पण से उड़ी कांग्रेस की नींद, गांधी परिवार कर रहा है बचाने की कोशिश- बीजेपी

नई दिल्ली। अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर सौदे के कथित बिचौलिये क्रिश्चियन मिशेल के भारत प्रत्यर्पन और कोर्ट में पेशी पर बचाव में कांग्रेस नेता के बतौर वकील पेश होने पर बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने कांग्रेस और गांधी परिवार पर बड़ा हमला किया है. संबित पात्रा ने आरोप लगाया कि क्रिश्चियन मिशेल को गांधी परिवार बचाने की कोशिश कर रहा है.कांग्रेस और गांधी परिवार पर हमला करते हुए संबित पात्रा ने कहा, '' कांग्रेस के नेता को क्रिश्चियन का वकील बनाया गया है. अल्जो जोशफ जो केस लड़ रहे हैं, उन्हें कांग्रेस पार्टी से निकाला गया है. मैं पूछता हूं उसे किसके कहने पर वकील बनाया गया है.''

संबित पात्रा ने आगे कहा,'' अल्जो जोशफ अलावा जो 2 अन्य वकील हैं वह भी कांग्रेस से संबंध रखते हैं. पहले विष्णू शंकर जो केरला कांग्रेस के नेता के बेटे हैं और दूसरे श्रीराम प्रकट जो NSUI के मेंबर हैं. इस मामले में तीनों वकीलों ने बड़े कांग्रेस के वकील जैसे कपिल सिब्बल और सलमान खुर्शीद के नीचे काम किया है.''

संबित पात्रा ने कहा, '' 10 जनपथ के कहने पर मिशेल को बचाया जा रहा है. मिशेल के प्रत्यर्पन के बाद से ही एक परिवार की नींद उड़ गई है.मोदी सरकार की कोशिश से मिशेल को भारत लाया जा सका है लेकिन मिशेल के भारत आने से कांग्रेस को बहुत दुख हुआ. कांग्रेस का असली चेहरा सामने आ गया है. पूरी पार्टी मिशेल के बचाव में आ गई है.''

ANI
@ANI
Sambit Patra, BJP: The Congress is rattled after the extradition of #ChristianMichel. They sent their team to save Michel. Congress's Aljo Joseph appeared for him in Court, they later went through the charade of removing him. The family in Congress is getting sleepless nights
238
1:39 PM - Dec 6, 2018

बता दें कि 3600 करोड़ के VVIP चॉपर घोटाले मामले में इसी महीने 4 तारीख को CBI को बड़ी सफलता मिली थी. इस मामले में मुख्य आरोपी और वॉन्टेड क्रिश्चियन मिशल को मंगलवार रात दुबई से भारत लाया गया. वह दुबई की जेल में बंद था.

पिछले महीने ही दुबई की अदालत ने निचली अदालत का फैसला बरकरार रखते हुए ये माना था कि मिशेल का भारत प्रत्यर्पण किया जा सकता है. कोर्ट ने मिशेल के वकीलों की गुहार खारिज करते हुए ये आदेश दिया था. जिसके बाद अब उसे भारत लाया गया है. ये सारा ऑपरेशन एनएसए डोभाल की निगरानी में चलाया गया था जिसके बाद यूएई ने मिशेल को भारत को सौंप दिया. मिशेल 3600 करोड़ रुपए के हेलीकाप्टर सौदा मामले में भारतीय जांच एजेंसियों को तलाश थी.


Related News