Follow us:

Google Maps में आएगा AR नेविगेशन फीचर, जानें क्या हो सकता है बदलाव

नई दिल्ली। वर्ष 2018 में आयोजित किए गए Google I/O ने ऑगमेंटेड रिएलिटी (AR) को लेकर जानकारी दी थी। इस दौरान बताया गया था कि गूगल मैप्स के लिए किस तरह AR काम करेगा। इस नए फीचर के जरिए यह पता चला है कि किस तरह कैमरा के जरिए यूजर्स मैप्स को इस्तेमाल कर पाएंगे। एक डेमो में दिखाया गया है कि एडवांस्ड नेविगेशन सिस्टम किस तरह यूजर्स को डायरेक्ट या पॉप-अप के जरिए बिजनेस और शॉप्स की तरफ नेविगेट करेगा।

वॉल स्ट्रीट जर्नल की एक रिपोर्ट के मुताबिक, डेमो में गूगल मैप्स के पहले वर्जन को ऑगमेंटेड रिएलिटी के साथ दिखाया गया है। हालांकि, नया फीचर पुराने वर्जन से काफी अलग नहीं है जिसे गूगल की मई 2018 की डेवलपर कॉन्फ्रेंस में दिखाया गया था। नए फीचर में आधी स्क्रीन पर मैप्स और आधी पर रियल-वर्ल्ड सराउंडिंग्स की जानकारी दी गई होगी। मैप्स का UX डिजाइन लीड करने वाले Rachel Inman का कहना है कि इस ऐप का डिजाइन ऐसा बनाया गया है कि यूजर्स इसे ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल कर पाएं और नई जगहों को ढूंढ पाएंगे

गूगल मैप्स हुआ बेहतर:

पिछले साल Google I/O कॉन्फ्रेंस के दौरान, कंपनी ने बताया था कि गूगल मैप्स अब आपका आना-जाना ही आसान नहीं करेगा। बल्कि इसमें अब आपके आस-पास की जगहों की भी जानकारी मिलेगी। योर मैच फीचर किया गया पेश। यह आपकी पसंद के अनुसार मैच दिखाएगा। यह फीचर मशीन लर्निंग पर काम करेगा। अपने पसंद की जगहों को शॉर्टलिस्ट कर के अपने दोस्तों के साथ कर पाएंगे शेयर। रियल-टाइम वोटिंग कर के कर पाएंगे जगह का चुनाव। यह फीचर होगा इसी साल उपलब्ध।

कैमरा में देख पाएंगे मैप्स के फीचर:

कैमरा ओपन कर के देख पाएंगे आस-पास की जगहों और रास्तों के बारे में। कंपनी विजुअल पोजिशनिंग सिस्टम पेश किया। उदहारण के तौर पर- जिस तरह हम कसी जगह या रस्ते को याद करने के लिए आस-पास की किसी लोकेशन या बैनर या दुकान आदि को याद रखते हैं। उसी तरह गूगल भी इस सिस्टम की अदद से विजुअल चीजों को याद करेगा।

 

Related News