Follow us:

UAE के बाद अब रूस ने पीएम मोदी को दिया देश का सर्वोच्च सम्मान

मॉस्को। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को रूस का सर्वोच्च सम्मान मिला है। उन्हें ऑर्डर ऑफ सेंट एंड्रू द एपोस्टल अवॉर्ड दिया गया है। इसे रूस का सर्वोच्च सम्मान माना जाता है और यह दो देशों के बीच सामाजिक और रणनीतिक साझेदारी को अद्वितीय बढ़ावा देने के लिए दिया जाता है।

बताते चलें कि संयुक्त अरब अमीरात (UAE) ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सर्वोच्च नागरिक सम्मान जायद मेडल देने की घोषणा की है। अप्रैल के शुरुआती हफ्ते में यूएई के प्रिंस शेख मोहम्मद बिन जायद ने ट्वीट में लिखा था- भारत के साथ यूएई के घनिष्ट संबंध हैं। इसमें मेरे प्रिय मित्र प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अहम भूमिका रही है। इसके लिए यूएई के राष्ट्रपति उन्हें जायद मेडल प्रदान करते हैं।

यह यूएई का सबसे बड़ा सम्मान है, जो राजाओं, राष्ट्रपतियों और राष्ट्राध्यक्षों को ही दिया जाता है। मोदी पहले भारतीय, जिनको यह सम्मान मिला है। इससे पहले यह सम्मान एलिजाबेथ, जॉर्ज डब्ल्यू बुश, व्लादिमीर पुतिन, निकोलस सरकोजी, शी चिनफिंग और एंजेला मार्केल को दिया है।

साउथ कोरिया और यूएन से भी मिला है सम्मान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विदेश में कद किस तरह बढ़ा है, इसकी तस्दीक संयुक्त राष्ट्र और दक्षिण कोरिया से मिले सम्मान जाहिर करते हैं। प्रधानंमत्री मोदी को अक्टूबर 2018 में संयुक्त राष्ट्र के सर्वोच्च पर्यावरण पुरस्कार 'चैंपियंस ऑफ अर्थ द अवॉर्ड’' से सम्मानित किया गया। संयुक्त राष्ट्र महासचिव गुटारेस ने पर्यावरण के क्षेत्र में योगदान के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को 'चैंपियंस ऑफ द अर्थ' अवॉर्ड से सम्मानित किया। इससे बाद फरवरी में दक्षिण कोरिया ने पीएम मोदी को 2018 का सियोल शांति सम्मान दिया है। राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मोदी के योगदान को मान्यता देने के लिए यह पुरस्कार दिया गया था। दक्षिण कोरिया मेक इन इंडिया, स्वच्छ भारत और स्टार्ट अप इंडिया का महत्वपूर्ण साझीदार है।

Related News