Follow us:

भोज महोत्सव : धार में मातृशक्ति सम्मेलन संपन्न, महिलाओं को बताया इतिहास में वीरांगनाओं का योगदान

धार। भोजशाला की मुक्ति और उसके गौरव की पुनः स्थापना हेतु दृण संकल्पित महाराजा भोज स्मृतिबसन्तोसव समिति द्वारा मनाये जा रहे 4 दिवसीय भोज महोत्सव के दूसरे दिन भोजशाला में मात्रशक्ति सम्मेलन का आयोजन किया गया। सम्मेलन की मुख्य अतिथि श्रीमती संगीता गुने थी। कार्यक्रम की अध्यक्षता सरस्वती जन्मोत्सव की सय्योजिक सुमन व्यास ने कि। मात्रशक्ति सम्मेलन की प्रमुख वक्ता ने सर्वप्रथम माँ सरस्वती के तैलचित्र पर माल्यापर्ण किया और दिप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारम्भ किया कार्यकम का संचालन नीलेश परमार और अतिथी परिचय सुधीर वाजपेयी ने किया।

मुख्य वक्ता संगीत दीदी ने समाज मे मातृसक्ति की भूमिका की महत्ता को बताते हुए भारत वर्ष के इतिहास में प्रसिद्ध हुए वीरांगनाओ और महिलाओं के चरित्र के मॉध्यम से उनका समाज कार्य में महत्वपूर्ण योगदान सभी का मार्गप्रसस्त किया। कार्यक्रम में धार नगर की सेकड़ो माता बहनों ने इस कार्यक्रम में अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। कार्यक्रम के अंत में माँ वागदेवी की आरती पूजन और हवन हुआ। कार्यक्रम का आभार सुनिता शर्मा ने माना। कार्यक्रम के दौरान समिति ओर मातृशक्ति के समस्त पदाधिकारी उपस्थित थे। उक्त जानकारी समिति के मीडिया प्रमुख सुमित चौधरी ने दी।


 

Related News