Follow us:

भोपाल- पांच किश्तो में मिल सकता है सातवें वेतनमान का एरियर

भोपाल। प्रदेश के अधिकारियों-कर्मचारियों को सरकार एक जनवरी 2016 से सातवां वेतनमान देगी। 18 माह का एरियर नकद दिया जाएगा। यह 8 से 10 हजार करोड़ रुपए के बीच होगा। इसे तीन या पांच किस्तों में देना है, इसका फैसला मंगलवार को होने वाली कैबिनेट में होगा।

नया वेतनमान तय करने के लिए 2.57 का फॉर्मूला लगाया जाएगा। इसके अलावा बैठक में बीए, बीकॉम और बीएससी में वार्षिक परीक्षा पद्धति लागू करने पर विचार किया जाएगा। मुख्यमंत्री स्वेच्छानुदान की राशि बढ़ाने के मुद्दे पर भी बैठक में विचार होगा। अभी ये 70 करोड़ रुपए साल है।

सूत्रों के मुताबिक सरकार प्रदेश के कर्मचारियों को एक जुलाई से सातवां वेतनमान देने की घोषणा कर चुकी है। इसके लिए वित्त विभाग कैबिनेट में प्रस्ताव लाएगा। इसमें जनवरी 2016 से जून 2017 का एरियर देने पर विचार किया जाएगा। वित्त विभाग के अधिकारियों ने बताया कि एरियर तीन या पांच किस्तों में नकद दिया जा सकता है। जबकि नया वेतनमान देने पर सालाना साढ़े चार हजार करोड़ रुपए अतिरिक्त लगेंगे।

वेतन 2.57 के फॉर्मूले से बढ़ेगा यानी मौजूदा मूल वेतन में 2.57 का गुणा कर नया वेतन तय होगा। नए वेतन की गणना सॉफ्टवेयर से गी। इसके लिए विभाग ने सॉफ्टवेयर तैयार कराया है। बैठक में सेमेस्टर पद्धति खत्म करने पर विचार किया जाएगा। बताया जा रहा है कि बीए, बीकॉम और बीएससी के प्रथम वर्ष से नई व्यवस्था लागू होगी। इसके अलावा बैठक में करीब 20 मुद्दों पर विचार किया जाएगा।

3500 से 26 हजार तक बढ़ेगा वेतन

सूत्रों के मुताबिक सातवां वेतनमान लागू होने पर अधिकारियों-कर्मचारियों के वेतन में औसत 14 प्रतिशत की वृद्धि हो सकती है। इससे कर्मचारियों को न्यूनतम 3500 से लेकर 26 हजार रुपए तक का फायदा प्रतिमाह होगा। मौजूदा भत्ते ही कर्मचारियों को मिलेंगे। महंगाई भत्ता चार प्रतिशत से शुरू हो सकता है।

Related News