Follow us:

4 लाख में शुरू करें ये बिजनेस, हर महीने होगी 50 हजार से ज्यादा इनकम

नई दिल्ली। अगर आपके पास 4 लाख रुपए हैं और इसके जरिए आप कोई नया बिजनेस शुरू करने की सोच रहे हैं तो आपके पास एक बेहतर विकल्प है। यह बिजनेस केंद्र सरकार की एमएसएमई स्कीम से जुड़ा है, जिसके तहत बिजनेस शुरू करने पर आपको 60 से 80 फीसदी तक सरकार मदद करती है। हम आपको एक ऐसे बिजनेस के बारे में बता रहे हैं, जिसमें आपको खुद के पास से सिर्फ 4 लाख रुपए इन्वेस्ट करने होंगे।

सरकार ने छोटी इंडस्ट्री को बढ़ावा देने के लिए इस बिजनेस के लिए पूरी तरह से स्ट्रक्चरिंग भी की है कि कितनी लगात आएगी और कितना मुनाफा हो सकता है। बिजनेस मॉडल जिस तरह से तैयार किया गया है, उस लिहाज से साल भर में सारे खर्च निकालने के बाद भी आपकी सालाना बचत 7 लाख रुपए तक हो सकती है। यानी हर माह 50 हजार रुपए से ज्यादा इनकम आप कर सकते हैं।


शुरू करें नोटबुक, नोट पैड और रिकॉर्ड बुक मैन्युफैक्चरिंग बिजनेस

स्माल इंडस्ट्री से जुड़ा एक पॉपुलर बिजनेस नोटबुक मैन्युफैक्चरिंग का बिजनेस है। खास बात यह है कि नोटबुक, नोट पैड या रिकॉर्ड बुक की डिमांड हर जगह है, चाहे स्कूल-कॉलेज हों या ऑफिस या बिजनेस, हर जगह इसकी जरूरत होती है। यहां तक कि घरों में भी कई कामों में इनका इस्तेमाल होता है। नोट बुक या नोअ पैड की डिमांड दिनों-दिन बढ़ रही है। मार्केट में कई मैन्युफैक्चरर अपने प्रोडक्ट प्रमोट कर अच्छा खासा मुनाफा कमा रहे हैं। अगर आपके प्रोडक्ट की क्वालिटी अच्छी है तो बिजनसे में सफल होने का चांस ज्यादा है। इसके लिए जरूरी रॉ मैटेरियल भी जुटाना आसान है। आप किसी भी एरिया में बिजनेस स्टार्ट कर सकते हैं।

आपके मन में यह सवाल होगा कि बिजनेस कहां शुरू कर सकते हैं। बता दें कि आपके पास स्पेस या बिल्डिंग है या नहीं है, दोनों कंडीशन में बिजनेस शुरू किया जा सकता है। इसके लिए आप किराए पर बिल्डिंग या स्पेस ले सकते हैं। अगर आपके पास स्पेस नहीं है तो आप 500 वर्गफुट तक का स्पेस रेंट पर ले सकते हैं। इसके लिए आपको एरिया के हिसाब से रेंट देना होगा। रेंट 5 से 15 हजार रुपए तक हो सकता है। खुद की स्पेस है तो ये पैसा भी आपके बचत में शामिल हो जाएगा। इस स्पेस पर आपको मशीनरी सेट-अप करना होगा।

कुल खर्च: 16.88 लाख रुपए

वर्किंग कैपिटल: 12 लाख रुपए
वर्किंग कैपिटल में रॉ मैटेरियल, लेबर चार्ज, पैकिंग, टेलिफोन बिल, बिजली का बिल, रेंट आदि शामिल है।

मशीनरी पर खर्च: 3.94 लाख रुपए

फिक्स्ड इन्वेस्टमेंट में पूरी मशीनरी और अन्य सेट-अप का खर्चा शामिल है।

इलेक्ट्रिफिकेशन: 35 हजार रुपए
फर्नीचर: 45400 रुपए


ऐसे होगी कमाई


सरकार ने एस्टीमेट तैयार किया है, जिसमें प्रोडक्शन कास्‍ट और सेल के हिसाब से टर्नओवर का रेश्‍यो तैयार किया गया है। एक फिक्स्‍ड मात्रा में प्रोडक्ट तैयार करने और उसकी एमआरपी तय करने के बाद.....
कास्ट ऑफ प्रोडक्शन: 4 लाख रुपए महीना यानी 47 लाख रुपए सालाना
टर्नओवर: 5 लाख रुपए महीना यानी 59 लाख रुपए की सेल सालाना होगी
दूसरे खर्च: करीब 4.85 लाख रुपए सालाना
नेट ऑपरेटिंग प्रॉफिट: 7.38 लाख रुपए सालाना
टैक्स का खर्च निकालने के बाद नेट प्रॉफिट: 7 लाख रुपए सालाना
मंथली प्रॉफिट: 50 हजार से ज्यादा


सरकार ऐसे करेगी मदद

-बिजनेस शुरू करने के लिए आपको अपने पास से 4.23 लाख रुपए दिखाना जरूरी है।
-वर्किंग कैपिटल लोन: 9 लाख रुपए
-टर्म लोन: 3.65 लाख रुपए
-टोटल खर्च: 16.88 लाख रुपए

2.5 साल में मिल जाएगा पूरा इनवेस्टमेंट

सालाना रिटर्न: 41 फीसदी

7 लाख (नेट प्रॉफिट ) X 100/ 16.88 लाख (कुल लागत)=41%

यानी 2.5 साल में पूरा इन्वेस्टमेंट निकल आएगा।


ऐसे करें अप्लाई

इसके लिए प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के तहत आप किसी भी बैंक में अप्लाई कर सकते हैं। इसके लिए आपको एक फॉर्म भरना होगा, जिसमें ये डिटेल देनी होगी...
नाम, पता, बिजनेस शुरू करने का एड्रेस, एजुकेशन, मौजूदा इनकम और कि‍तना लोन चाहिए। इसमें किसी तरह की प्रोसेसिंग फीस या गारंटी फीस भी नहीं देनी होती। लोन का अमाउंट 5 साल में लौटा सकते हैं।