Follow us:

मप्र में कांग्रेस के कुल 229 उम्मीदवार घोषित, 5 के टिकट बदले

भोपाल। प्रदेश भाजपा के कद्दावर नेता एवं पूर्व मंत्री सरताज सिंह ने अपनी पार्टी को बड़ा झटका देते हुए गुरुवार को कांग्रेस का हाथ थाम लिया। कांग्रेस ने सरताज को होशंगाबाद से अपना प्रत्याशी घोषित कर दिया है।

वहीं बुधनी में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के खिलाफ कांग्रेस ने पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव को खड़ा किया है। कांग्रेस ने 229 प्रत्याशियों की अंतिम सूची जारी कर दी, जतारा सीट लोकतांत्रिक जनता दल के लिए छोड़ी है। पांच प्रत्याशियों को बदला गया है।

भाजपा ने सरताज का टिकट काट दिया था, इसके बाद उन्होंने यह कदम उठाया। जिले की राजनीति में इसे सियासी भूचाल के रूप में देखा जा रहा है। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी की सरकार में स्वास्थ्य मंत्री रहे सरताज सिंह होशंगाबाद जिले में 60 साल से जनसंघ और भाजपा की राजनीति के पर्याय बन चुके थे।

75 के फार्मूले में पार्टी ने उनका मंत्री पद छीन लिया था, अब टिकट पर कैंची चलते ही सरताज ने बगावत कर दी। कांग्रेस ने उन्हें तुरंत ही होशंगाबाद से अपना उम्मीदवार घोषित कर दिया। सियासी हलकों में इसे बड़ी घटना माना जा रहा है।

पांच प्रत्याशी बदले

कांग्रेस ने सिरोंज, बुरहानपुर, इंदौर-1, रतलाम ग्रामीण और देवसर से घोषित अपने प्रत्याशियों को बदल दिया है। बदलाव के बाद अब सिरोंज से मसर्रत शाहिद, रवींद्र महाजन बुरहानपुर, संजय शुक्ला इंदौर-1,रतलाम ग्रामीण थावरलाल भूरिया और देवसर में वंशमणि वर्मा को टिकट देने का एलान किया गया है। होल्ड की गई मानपुर सीट पर ज्ञानवती सिंह को घोषित किया गया है।

 

अंतिम क्षणों में थाम लिया 'हाथ"

चुनावी मौसम में दिग्गज नेता सरताज के अलावा तीन अन्य भाजपाई कांग्रेस का दामन थामकर राजनीतिक सनसनी पैदा कर चुके हैं। इनमें मुख्यमंत्री चौहान के साले संजय मसानी, पद्मा शुक्ला और तेंदूखेड़ा विधायक संजय शर्मा का नाम शामिल है।