Follow us:

ATM यूजर्स रहें सावधान, पिन बदलना हो या पैसे निकालना, इन बातों का रखें ध्‍यान

आज के दौर में बिना एटीएम कार्ड के हमारा काम नहीं चलता है। भले ही हम कैश पेमेंट करें या कार्ड से भुगतान करें, एटीएम कार्ड की जरूरत तो सभी को पड़ती है। लेकिन क्‍या आपने कभी ध्‍यान दिया है कि रोजमर्रा इस्‍तेमाल होने वाला एटीएम कार्ड कितना सुरक्षित है। इसका इस्‍तेमाल करने में हमें कुछ बातों का ध्‍यान रखना चाहिये वर्ना इसका खामियाजा भुगतना पड़ सकता है। आइये आपको एटीएम कार्ड से संबंधित कुछ जरूरी बातें बताते हैं।

एटीएम का इस्तेमाल हमेशा निजता में करें। कभी किसी के सामने पिन एंटर ना करें। किसी भी अन्‍य व्‍यक्ति को ना तो अपना पिन (पर्सनल आइडेंटिफिकेशन नंबर) बताएं और न कहीं लिखकर रखें। कार्ड खोने पर संबंधित बैंक को सूचना दें। बैंक की शाखा खुलने का इंतजार न करें, कस्टमर केयर नंबर का उपयोग करें। एटीएम से पैसे निकालने या अन्य उपयोग के बाद कैंसिल बटन को जरूर दबाएं। ऐसा न करने पर कोई शरारती तत्‍व आपके खाते में सेंध लगा सकता है।

संबंधित बैंक में अपना रजिस्‍टर्ड मोबाइल नंबर और ई-मेल एड्रेस जरूर दर्ज कराएं ताकि आहरण का अलर्ट एसएमएस और मेल तुरंत आपको उसी समय प्राप्‍त हो सके। लेन देन के लिए किसी अन्य को एटीएम कतई न दें। हर दो-तीन महीने पर पिन बदलते रहें, ताकि कार्ड की गोपनीयता भंग ना हो सके।

एटीएम कार्ड का पिन बदलना हो तो ये करें

किसी भी एटीएम में पिन डालने के बाद कई विकल्प आते हैं। इनमें एक विकल्प पिन बदलने का भी है। यदि आप बैंक से ऑटोमेटेड टेलिफोन बैंकिंग सिस्टम से जुड़े हैं तो इसके माध्‍यम से भी पिन बदल सकते हैं। लेकिन यदि आप इस सिस्टम से नहीं जुड़े हैं तो सिस्टम पर फोन करने पर फोन बैंकिंग पिन जनरेट करने को कहा जाएगा।

इसके लिए आपसे कई तरह के सवाल पूछे जाएंगे। सही जवाब देने पर ही यह जनरेट हो पाएगा। नया फोन बैंकिंग और पिन एक्टिवेट होने पर ही नया एटीएम पिन जारी होगा।

सामान्‍य तौर पर सभी बैंक ऑनलाइन अप्लाई करने पर या शाखा में आवेदन देने पर नया पिन जारी करते हैं। कुछ बैंक तो अपने खाताधारकों को नया पिन अपनी शाखा से तुरंत ही देते हैं। अक्‍सर बैंक यह पिन खाताधारक के पते पर कूरियर से भेजते हैं। नया पिन 24 से 48 घंटे में एक्टिवेट होता है।