Follow us:

पेपर बैग के 3 रुपए लेना पड़ा महंगा, Bata पर लगा 9 हजार का जुर्माना

चडीगढ़। आप अक्सर बाजार में जब शॉपिंग के लिए जाते हैं तो दुकानदार या मॉल के सेल्समैन आपको बैग के बदले चार्ज करते हैं। बैग की यह कीमत 2 रुपए, 3 रुपए, 5 रुपए या ज्यादा भी होती है। लेकिन ऐसा करना शू कंपनी बाटा को महंगा पड़ गया है। दरअसल, उपभोक्ता फोरम ने जूते खरीदने के बाद ग्राहक से पेपर बैग के 3 रुपए वसूलने पर बाटा इंडिया पर 9 हजार का जुर्माना लगाया है। साथ ही आदेश दिया है कि कंपनी सामान खरीदने वाले ग्राहकों को कैरी बैग मुफ्त में दें।

खबरों के अनुसार, सेक्टर 22 के रहने वाले दिनेश प्रसाद नाम के इस शख्स ने बाटा शो रूम से जूते खरीदे थे। सेल्समैन ने इसके बाद इन्हें रखने के लिए पेपर बैग दिया। इस पेपर बैग के लिए शोरूम ने ग्राहक से तीन रुपए लिए। इसके बाद दिनेश प्रसाद ने उपभोक्ता फोरम ने इसकी शिकायत दर्ज की। फोरम ने मामले की सुनवाई हुई तो कंपनी ने आरोपों का खंडन किया लेकिन फोरम ने कंपनी को सर्विस में कोताही बरतने का दोषी पाया और 9 हजार का जुर्माना लगाया है।

अपने आदेश में उपभोक्ता फोरम ने कहा कि ग्राहक को सामान रखने के लिए जो पेपर बैग दिया जाता है उसके लिए भुगतान करने को मजबूर करना गलत है। कंपनी को यह पेपर बैग मुफ्त में देना चाहिए। आदेश में कोर्ट ने कंपनी को आदेश दिया है कि वो ग्राहक को 1 हजार रुपए और मानसीक पीड़ा के लिए 3 हजार चुकाने के लिए कहा है साथ ही आयोग के अकाउंट में 5 हजार जमा करने के लिए कहा है।