Follow us:

वर्ल्ड कप : पाक कप्तान सरफराज ने कहा- हम 90 के दशक में अच्छी टीम थे, अब भारत ज्यादा बेहतर

हार के बाद सरफराज ने कहा कि पिच देखते हुए पहले गेंदबाजी चुनी, कोहली भी यही करने वाले थे

सचिन तेंदुलकर ने कहा- मैच के दौरान पाक कप्तान सरफराज कन्फ्यूज थे

भारत ने विश्व कप में पाकिस्तान के खिलाफ खेले गए सभी 7 मैच जीते हैं

नई दिल्ली। वर्ल्ड कप मुकाबले में रविवार को हार के बाद पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने भारत की मौजूदा टीम को बेहतर बताया। सरफराज ने कहा कि जो टीम दबाव को झेल लेती है, वही मैच जीतती है। 90 के दशक की पाक टीम इसमें भारत से आगे थी, लेकिन अब भारतीय टीम हमसे बेहतर है। वहीं, पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने कहा कि सरफराज मैच के दौरान कन्फ्यूज थे। उन्होंने और पाक टीम ने सोचने-समझने की शक्ति खो दी थी।

सरफराज ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि हमारी टीम ने तीनों डिपार्टमेंट में खराब प्रदर्शन किया। यही हार की वजह रही। मैच से पहले प्रधानमंत्री इमरान खान ने ट्वीट किया था कि अगर पिच में नमी भी हो तो पहले बैटिंग चुननी चाहिए। उन्होंने ट्विटर पर ही टीम को कुछ और सुझाव भी दिए थे। हालांकि, सरफराज ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया।

सरफराज ने फैसले का बचाव करते हुए कहा, “टॉस जीतने के बाद विराट ने भी कहा था कि वे फील्डिंग ही चुनते। हमने दो दिन से पिच नहीं देखी थी। वहां कुछ नमी थी। इसी लिए हमने फील्डिंग का फैसला किया। हमने टॉस जीता, लेकिन सही जगह गेंदबाजी नहीं कर पाए।”

‘रोहित को रन आउट करते तो नतीजे कुछ और होते’

एक पत्रकार ने पाक कप्तान से पूछा कि मैच में उनका बॉडी लैंग्वेज इतना नकारात्मक क्यों था? इस पर सरफराज ने कहा कि हो सकता है आपने ऐसा कुछ देखा हो, लेकिन हमारे खिलाड़ी लगातार अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश कर रहे हैं। फील्डिंग में कुछ गलतियां हुईं। हमने रोहित को रन आउट करने के दो मौके गंवाए। अगर हम वो मौके भुना लेते तो नतीजे कुछ और होते।

टीम में खिलाड़ियों के बीच कोई विवाद नहीं
पत्रकारों ने पाक टीम में सीनियर खिलाड़ियों के बीच विवाद पर भी सवाल किए। इस पर सरफराज ने कहा कि ड्रेसिंग रूम में कोई विवाद नहीं है। सभी खिलाड़ी एक-दूसरे के साथ हैं। अगर यह सवाल है कि मैंने शोएब और हफीज को दोबारा गेंदबाजी क्यों नहीं दी, तो इसका जवाब है कि मुझे इसकी जरूरत महसूस नहीं हुई। दोनों गेंदबाज अपने ओवरों में 11-11 रन दे चुके थे। दोनों बल्लेबाज भी क्रीज पर जम चुके थे।

सचिन ने कहा- सरफराज कन्फ्यूज थे
सचिन ने कहा, ''मुझे लगता है कि वे (सरफराज) कन्फ्यूज थे, क्योंकि जब वहाब रियाज गेंदबाजी कर रहे थे, तब उन्होंने शॉर्ट मिड-विकेट पर खिलाड़ी लगा रखा था। इसके बाद जब शादाब गेंदबाजी के लिए आए, तो उसने स्लीप पर फील्डिंग लगा दी। मैच के दौरान उनकी सोचने की और कल्पना शक्ति में कमी दिखी।''