Follow us:

धार में राष्ट्रपिता महात्मा गांधीजी के समाधि स्थल तोडने के विरोध में सरकार के खिलाफ कांग्रेस ने किया उपवास, मुख्यमंत्री को पद पर बने रहने का कोई अधिकार नही- पूर्व मण्डी अध्यक्ष श्री चौहान

धार। जिला कांग्रेस कमेटी धार ने बडवानी के राजघाट स्थित राष्ट्रपिता महात्मा गांधीजी के समाधि स्थल को प्रशासन एंव सरकार द्वारा गुरूवार 27 जुलाई को जेसीबी मशीन से तोडने के विरोध में स्थानीय हटवाडा चैक स्थित महात्मा गांधीजी की प्रतिमा के सामने उपवास रखकर विरोध किया। बडवानी के नर्मदा के राजघाट स्थित समाधि को तोडे जाने को कांग्रेस ने घिनोना कृत्य करार दिया है । जिला कांग्र्रेस उपाध्यक्ष एंव पूर्व मंडी अध्यक्ष पर्वतसिंह चौहान ने कहा कि सरकार ने आज उनकी समाधि और अस्थि कलश को उखडवा दिया, राष्ट्रपिता की समाधि एंव अस्थि कलश के साथ इस घिनोने कृत्य के लिए मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान को पद पर बने रहने का कोई अधिकार नही है। इस समाधि में केवल महात्मा गांधी ही नही कस्तुरबा गांधी एंव उनके सचिव रहे महादेव देसाई की देह, राख रखी हुई थी, और यह स्थान गांधीवादी विचारधारा के लौगो की आस्था का केन्द्र भी था, जिसको सरकार और प्रषासन द्वारा तोडा जाकर उन्हे ठेस पहुचाई गई है।
इस अवसर पर वरिष्ठ कांग्रेस नेता सदाशिव सोंलकी एडव्होकेट, शहर कांग्रेस अध्यक्ष गौतम प्रजापत, जनपद सदस्य लियाकत पटेल, प्रदेश महासचिव कामरान कुरैशी, हेमंत मेहता, अशोक राठौर, एनएसयुआई अध्यक्ष रत्नेश जागडे, शहर कांग्रेस सचिव जग्गा षरण,इरफान धारवी, मोहम्मद अली, युकां शहर अध्यक्ष करणसिंह चौहान, सचिन पाल, रईस खान चाचा, अतुल ठाकुर, हर्ष राजपूत, शुभम शर्मा, राहुल राठोरिया, जितु ठाकुर, अजय राठौर, रवि यादव, शोहेब खलीफा भारत, शुभम, पियुष, गोलु आदि अनेको कांग्रेसीगण उपस्थित थे। उक्त जानकारी जिला कांग्रेस प्रवक्ता राजेश सिंह पटेल द्वारा दी गई।

Related News