Follow us:

धार कलेक्टर ने कहा- जिन समूहों का कार्य संतोषजनक नही है, उनका कार्य आजीविका मिशन के महिला समूहों को सौपने के निर्देश, मामला निरीक्षण के दौरान पाई गई थी कमियाॅं

धार। कलेक्टर श्रीमन् शुक्ला ने बताया कि मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम अन्तर्गत विगत माह टाॅस्क मैनेजर एमडीएम द्वारा विकासखण्ड धार, तिरला, सरदारपुर, बदनावर, बाग व धरमपुरी की षालाओं में निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान कई मुख्य कमियाॅं परिलक्षित हुई है। इनमें कतिपय शालाओं में समूह द्वारा मुन्यू अनुसार भोजन नही दिया जाकर केवल दाल-रोटी या सब्जी-रोटी ही दिया जाना पाया गया है तथा निर्धारित मात्रा में भी नही दिया जा रहा है। भोजन एवं दुध का नमूना 24 घंटे के लिए नही रखा जा रहा है। शिक्षक द्वारा भोजन चखकर टीप अंकित नही की जा रही है। विकासखण्ड स्तरीय अमले द्वारा मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम का निरीक्षण नही किया जाकर निरीक्षण पंजी में टीप अंकित नही की जा रही है तथा स्वच्छता पर भी ध्यान नही दिया जा रहा है। 

कलेक्टर श्री शुक्ला ने इस संबंध में सभी जनपदों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को निर्देशित किया है कि उक्त कमियाॅं को लगातार निरीक्षण करवाया जाकर एवं स्वयं भी निरीक्षण कर दूर किया जावे। साथ ही अपर मुख्य सचिव द्वारा 21 सितम्बर 2017 को आयोजित विडियो काॅन्फ्रेंस में दिए निर्देशानुसार जिन समूहों का कार्य संतोषजनक नही पाया जाए, उनका कार्य आजीविका मिशन के महिला समूहों को कार्य सौपा जावे तथा षासन निर्देषों का कड़ाई से पालन करवाया जाना सुनिश्चित करे।