Follow us:

धार जिपं सीईओ ने 9 जनपदों के 32 सचिव, सरपंच को कारण बताओ नोटिस किए जारी, मामला सीएम हेल्पलाईन में लंबित शिकायतों के निराकरण समय पर नही करने का

धार। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत आरके चौधरी ने जिले की 9 जनपदों के 32 सचिवों/सरपचों को कारण बताओ नोटिस जारी किए है। इनके द्वारा संबंधित ग्राम पंचायतों में हितग्राहियों को समय पर राशि का भुगतान नही करने के कारण षिकायतकर्ताओं द्वारा सीएम हेल्पलाईन में शिकायत की गई। उक्त शिकायते लेवल-4 पर काफी समय से लंबित है।
मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री चौधरी ने जिन जनपदों की ्रग्राम पंचायतों के 32 सचिव/सरपंचों को कारण बताओ नोटिस जारी किए गए है, इनमें जनपद पंचायत सरदारपुर की 9, बदनावर की 8, निसरपुर के 4, धार, उमरबन व नालछा के 3-3, धरमपुरी व तिरला के 2-2 तथा मनावर के 01 शामिल है। जनपद पंचायत सरदारपुर की ग्राम पंचायत धुलेट, ग्राम पंचायत बरमण्डल, ग्राम पंचायत हातोद, ग्राम पंचायत हनुमन्त्या परमपुरा, ग्राम पंचायत भेरूपाडा, ग्राम पंचायत भोपावर, ग्राम पंचायत अमझेरा, ग्रमा पंचायत देदला व ग्राम पंचायत अकोलिया के सचिव व सरपंच शामिल है।
इसी प्रकार जनपद पंचायत बदनावर की ग्राम पंचायत धारसीखेडा, रूपाखेडा, मुलथान, भुवानीखेडा, बोराली, पिटगारा, भैसोला व ग्राम पंचायत पडुनिया, जनपद पंचायत निसरपुर की ग्राम पंचायत, चिखल्दा, लोहारी, खराजना व निम्बोल, जनपद पंचायत धार की ग्राम पंचायत कन्डारिया, कोटा भिडोता व कलसाडाखुर्द, जनपद पंचायत उमरबन की ग्राम पंचायत कोठडा व कलाल्दा, जनपद पंचायत नालछा की ग्राम पंचायत मोगराबाव, आली व सराय, जनपद पंचायत तिरला की ग्राम पंचायत सलकनपुर व शिवसिंगपुरा, जनपद पंचायत धरमपुरी की ग्राम पंचायत खलबुजुर्ग व अनुपपुर बहादरा तथा जनपद पंचायत मनावर की ग्राम पंचायत लवाणी के सचिव व सरपंचों को कारण बताओ नोटिस जारी कर अपना प्रतिउत्तर 17 अक्टूबर 2017 को कार्यालयीन समय में समक्ष में उपस्थित होकर प्रस्तुत करने के लिए निर्देषित किया है। प्रतिउत्तर प्रस्तुत न करने की दषा में संबंधितों के विरूद्ध एक पक्षीय कार्य की चेतावनी दी गई है।

Related News