Follow us:

हैंगआउट सर्विस 2020 तक बंद करेगा गूगल, ओलो और डुओ के प्रसार पर कंपनी का जोर

सैन फ्रांसिस्को। गूगल ग्राहकों के लिए अपनी मशहूर हैंगआउट सेवा 2020 तक बंद कर देगा. टेक वेबसाइट 9 टू 5 गूगल ने प्रोडक्ट से जुड़े एक सूत्र के हवाले से यह रिपोर्ट प्रकाशित की है. टेक जगत की दिग्गज कंपनी ने 2013 में जीचैट की जगह पर हैंगआउट को लॉन्च किया था लेकिन कंपनी ने हालिया सालों में एप को अपडेट करना बंद कर दिया और एसएमएस संदेशों को इससे अलग कर दिया, जिसके कारण इसमें फीचर की कमी होती गई.

हालांकि, वेब पर जीमेल में हैंगआउट अभी भी एक मुख्य चैट विकल्प है और यह एप गूगल प्ले स्टोर पर अभी भी उपलब्ध है. गूगल हैंगआउट एक संपर्क मंच है, जिसे कंपनी द्वारा विकसित किया गया था. इसमें मैसेंजिंग, वीडियो चैट, एसएमएस और वॉयस ओवर इंटरेट प्रोटोकोल फीचर शामिल हैं.

कई समीक्षकों का कथित रूप से कहना है कि हैंगआउट एप काफी पुराना और उसपर बग्स दिखाई दे रहे हैं साथ ही इसके प्रदर्शन का भी एक मुद्दा है. इसके अलावा, गूगल ने नए उत्पाद के रूप में अपनी ओलो और डुओ सेवा पेश की है, जो उपयोग में आसान इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप है. यह हैंगआउट को एक व्यापारिक समूह या सहयोग संपर्क सेवा में बदल देगी.

हालांकि, साल 2018 की शुरुआत में ही गूगल ने घोषणा की थी कि वह हैंगआउट के लिए स्मार्ट रिप्लाई फीचर ला रहा है. इस फीचर की मदद से हैंगआउट यूजर्स की बातचीत को समझ सकेगा. वहीं, चैट के दौरान ऑटो रिप्लाई वाले कुछ विकल्प दिखाई देंगे, लेकिन अब इसके बंद होने की खबरें आ रही हैं.