Follow us:

गुजरात में उत्तर भारतीयों पर हमला, कांग्रेस ने भाजपा को याद दिलाया 'राजधर्म', कहा- हिंसा रोकना ही नहीं चाहते

नई दिल्ली। गुजरात (Gujarat) में उत्तर भारतीयों पर हमले के मामले में कांग्रेस ने राज्य की भाजपा सरकार को आड़े हाथों लिया है. कांग्रेस ने मंगलवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राज्य के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी को ‘राजधर्म’ का पालन करना चाहिए. पार्टी प्रवक्ता मनीष तिवारी ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘गुजरात में जो परिस्थिति है वो अत्यंत ही संवेदनशील है. पूरे प्रदेश में एक तनाव का वातावरण है. ऐसा आप सब जानते हैं कि 50 हजार से अधिक लोग वहां से पलायन कर चुके हैं’’. उन्होंने कहा, ‘‘ चिंता की बात ये है कि, उत्तर प्रदेश और बिहार के लोगों को लेकर जो बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण घटना उत्तर गुजरात तक सीमित थी अब मध्य गुजरात में भी उसका असर देखने को मिल रहा है. अहमदाबाद (Ahmedabad) में वारदातें हुईं.

आणंद में वारदातें हुई और ऐसा ज्ञात होता है कि गुजरात की जो राज्य सरकार है वो इस हिंसा को रोकना नहीं चाहती’’. तिवारी ने कहा कि मोदी और राज्य के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी को ‘राजधर्म’ का पालन करना चाहिए. गौरतलब है कि गत 28 सितंबर को गुजरात के साबरकांठा जिले में 14 महीने की एक बच्ची के साथ कथित बलात्कार के बाद छह जिलों में हिंदी भाषी लोगों पर हमलों की कई घटनाएं हुई हैं. राज्य सरकार का कहना है कि हिंसा की घटनाओं के सिलसिले में 400 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया गया है. बलात्कार के मामले में बिहार के एक प्रवासी श्रमिक को गिरफ्तार किए जाने के बाद हिंसा की शुरुआत हुई थी.