Follow us:

गोरखपुर हादसे पर स्वास्थ्य मंत्री का शर्मनाक बयान

लखनऊ। गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में ऑक्सीजन की कमी से हुई बच्चों की मौत पर सफाई पेश करते हुए उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री ने बेहद शर्मनाक बयान दिया है। उन्होंने कहा कि हर साल अगस्त में बच्चों की मौत होती है। बच्चों की मौत के लिए ऑक्सिजन की कमी को उनहोंने सिरे से खारिज कर दिया।

सिद्धार्थ नाथ सिंह सफाई पेश करते हुए कहा कि हमारी सरकार बच्चों की मौत को कम नहीं आंक रही है। अस्पताल में अब ऑक्सीजन की कमी नहीं है। हमारी सरकार इस घटना को लेकर काफी संवेदनशील है। सीएम योगी आदित्यनाथ ने मुझे गोरखपुपर जाने का निर्देश दिया है।

गुरुवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के जिले में 63 लोगों ने ऑक्सीजन सप्लाई रोके जाने से दम तोड़ दिया। बीआरडी मेडिकल कालेज में इंसेफ़लाइटिस के मरीजों के लिए बने सौ बेड के आइसीयू सहित दूसरे आइसीयू व वार्डों में देर रात से रुक रुक कर आक्सीजन सप्लाई ठप होने से मासूमों व अन्य मरीजों ने अपनी जान गंवा दी।

खबर है कि मेडिकल कालेज के नेहरु अस्‍पताल में सप्‍लाई करने वाली फर्म का 69 लाख रुपए का भुगतान बकाया था जिसके चलते गुरुवार शाम को फर्म ने अस्‍पताल में लिक्विड ऑक्‍सीजन की आपूर्ति ठप कर दी।