Follow us:

Ganesh Utsav 2019: यहां विराजे 9 हजार नारियलों से बने गजानन, देखने को उमड़े भक्त

बेंगलुरु। आज से देशभर में गणेश उत्सव की धूम शुरू हो गई है। देश के लगभग हर राज्य में गणपति बप्पा के आगमन के साथ ही 10 दिनी त्योहार का शुभारंभ हो रहा है। हर साल की तरह इस साल भी बप्पा लोगों को दर्शन के साथ संदेश भी देंगे। कहीं पानी बचाने का तो कहीं ट्रैफिक नियमों के पालन का।

ऐसा ही एक संदेश गणपति बप्पा बेंगलुरु के लोगों को दे रहे हैं। यहां एक मंदिर में विराजे बप्पा लोगों को प्रकृति प्रेम का संदेश दे रहे हैं। यह संदेश देने का भी अनोखा अंदाज है कि बप्पा खुद भी ईकोफ्रेंडली हैं। दरअसल, बेंगलुरु के पुट्टेंगली मंदिर में इस बार भगवान गणेश और उनके वाहन मूषक की प्रतिमा नारियल से बनाई गई है।

बप्पा की यह 30 फीट ऊंची प्रतिमा बनाने में 9,000 नारियलों का उपयोग किया गया है। इसे बनाने के लिए 70 लोगों ने लगातार 20 दिनों तक मेहनत की है तब जाकर यह प्रतिमा तैयार हुई है। इस प्रतिमा में केवल नारियल ही नहीं बल्कि 20 प्रकार की अलग-अलग सब्जियों का भी उपयोग किया गया है।

गणपति स्थापना मंडल से जुड़े मोहन राजू के अनुसार यह मंदिर की सालाना प्रक्रिया है कि वो इस तरह के ईको फ्रैंडली गणेश की स्थापना करता है।

Related News