Follow us:

नया अपडेट / एंड्रॉयड यूजर्स के लिए गूगल मैप में आया इन्कॉग्निटो मोड, फोन में सेव नहीं होगी लोकेशन-सर्च हिस्ट्री

गैजेट डेस्क। क्रोम के इन्कॉग्निटो मोड के तरह अब गूगल ने गूगल मैप के लिए भी इन्कॉग्निटो मोड फीचर रोल आउट कर दिया है। इस मोड को इनेबल करने से नेविगेशन और सर्च हिस्ट्री, अकाउंट में सेव नहीं होंगी साथ ही हिस्ट्री रिकमेंडेशन सेक्शन में नहीं दिखेगी। यह नया फीचर उस समय बेहद काम का साबित होगा, जब यूजर आपनी लोकेशन को गोपनीय रखना चाहते हो या किसी को बताए बिना किसी जगह का एड्रेस पता लगाना हो। फिलहाल यह फीचर सिर्फ एंड्रॉयड यूजर्स के लिए ही जारी किया गया है। जल्द ही इसे आईओएस यूजर्स के लिए भी रोलआउट किया जा सकता है।

े

इंटरनेट प्रोवाइडर तक पहुंचेगी जानकारी

गूगल ने इस फीचर को रोलआउट करना शुरू कर दिया है। लेकिन यूजर्स तक इसे पहुंचने में थोड़ा समय भी लग सकता है।

नए अपडेट के बाद गूगप मैप ओपन कर प्रोफाइल फोटो पर टैप करके 'इन्कॉग्निटो मोड' को ऑन किया जा सकेगा। इसी तरह इसे ऑफ भी किया जा सकता है।

मोड को ऑन करने पर मैप पर किए जाने वाले सर्च और नेविगेशन हिस्ट्री का कोई रिकॉर्ड नहीं रखा जाएगा। हालांकि पहले से सेव लोकेशन हिस्ट्री पर इसका कोई असर नहीं पड़ेगा।

गौर करनी वाली बात यह है कि यह मोड इस्तेमाल करने के बाद भी इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर और अन्य गूगल सर्विसस तक यूजर की जानकारी पहुंचेगी। यह सिर्फ यूजर से जानकारी छुपाता है। इसको इस्तेमाल करने के बाद ऐप के कई रेगुलर फीचर भी काम नहीं करते।

गूगल के मुताबिक नए मोड में लोकेशन हिस्ट्री, लोकेशन शेयरिंग, नोटिफिकेशन और मैसेज, सर्च हिस्ट्री, ऑफलाइन मैप, यूअर प्लेस, मीडिया इंटीग्रेशन, गूगल असिस्टेंट माइक्रोफोन इन नेविगेशन जैसी सुविधाएं बंद हो जाती है।

 

 

Related News