Follow us:

गृह शांति के नाम पर संभ्रांत परिवार की महिलाओं का यौन शोषण

इंदौर। तंत्र क्रिया और पूजा-पाठ की आड़ में संभ्रांत परिवार की कई महिलाओं के साथ यौन शोषण का मामला सामने आया है। शहर की पॉश कॉलोनी में रहने वाले तांत्रिक ने महिलाओं को देर रात बंगले में बुलाया और ज्यादती भी की।

पीड़ित महिलाएं गृह शांति और संतान प्राप्ति के लिए तांत्रिक के संपर्क में आई थीं। एक बड़े कारोबारी की शिकायत पर लसूड़िया पुलिस उसकी राजस्थान, गुजरात और उड़ीसा में तलाश कर रही है। वह कारोबारी की कार लेकर भागा हुआ है।

पुलिस के मुताबिक तांत्रिक त्रिलोकी नाथ उर्फ पं. कर्नल सिंह ने महालक्ष्मी नगर (आर सेक्टर) के एक बंगले में पूजा-पाठ का ठिकाना बना रखा था। उसके पास आने वाले लोगों में विजय नगर, साईंकृपा कॉलोनी, साकेत नगर, स्कीम-54 जैसे पॉश इलाकों के कारोबारी, नेता और अफसर थे।

उसके पास पॉर्लर, रेस्टोरेंट संचालिकाएं भी जाती थीं। ज्यादातर महिलाएं पति की शिकायत, गृह क्लेश और संतान प्राप्ति के लिए बाबा के संपर्क में आईं। इस दौरान उसने उन्हें पूजा-पाठ का झांसा दिया और उनके साथ शारीरिक संबंध बना लिए।

मामला उस वक्त उजागर हुआ जब एक कारोबारी की महिला मित्र भी यौन शोषण का शिकार हुई। कारोबारी ने तांत्रिक का स्टिंग ऑपरेशन किया और महिला मित्र के साथ वीडियो बना लिया। हालांकि बदनामी के डर से उसने ज्यादती का केस दर्ज करवाने से इनकार कर दिया।

बड़े कारोबारी की कार लेकर भागा

 पुलिस के मुताबिक त्रिलोकी नाथ मूलत: हनुमान कॉलोनी ग्राम रामवस तहसील लक्ष्मणगढ़ जिला अलवर (राजस्थान) का रहने वाला है। उसके खिलाफ कारोबारी नीलेश गुप्ता निवासी चंद्रलोक कॉलोनी की शिकायत पर हेराफेरी का केस दर्ज किया गया है।

गुप्ता ने बताया लोगों के कल्याणार्थ पूजा-पाठ व अन्य कार्यों के लिए तांत्रिक के संपर्क में आया था। सिंहस्थ के दौरान तांत्रिक ने पत्नी के नाम से रजिस्टर्ड कार (एमपी 09सीटी 2826) ले ली। इसी वर्ष अप्रैल माह में त्रिलोकी नाथ कार लेकर फरार हो गया। पुलिस ने केस दर्ज कर आरोपी की तलाश में दबिश दी। केस दर्ज होने की जानकारी मिलते ही तांत्रिक बंगले पर ताला लगाकर फरार हो गया।

 डीआईजी और एआरटीओ के संपर्क में रहता है

 पिछले दिनों पुलिस को सूचना मिली थी कि तांत्रिक विजय नगर निवासी एआरटीओ के घर छिपा हुआ है। पुलिस देर रात वहां पहुंची लेकिन त्रिलोकी नाथ पिछले दरवाजे से फरार हो गया। पुलिस के मुताबिक आरोपित डीआईजी स्तर के अधिकारी, शराब व्यवसायी, प्रॉपर्टी कारोबारियों सहित बड़े लोगों के संपर्क में है। वह लग्जरी कारों में घूमता है।

शेर की खाल पर बैठा, श्मशान में की पूजा

 एक महिला के मुताबिक त्रिलोकी नाथ बंगले में पूजा-पाठ के लिए चेले भी रखता था। वह शेर की खाल पर बैठता था। महिलाओं को प्रेत बाधा और पितृ दोष बताकर डरा देता था। उन्हें तिजोरी में रखने के लिए फूल देता था। कुछ दिन बाद मिलने बुलाता था। जिन महिलाओं को संतान नहीं होती थी उनसे कामुक बातें करता था। उन्हें बरगलाकर शारीरिक संबंध बना लेता था।

महिला पीड़ितों की जानकारी जुटाई जाएगी

 तांत्रिक के खिलाफ अमानत में खयानत का केस दर्ज किया है। उसकी गिरफ्तारी पर इनाम घोषित किया जा रहा है। उन महिला पीड़ितों की जानकारी जुटाई जा रही है जिनके साथ ज्यादती हुई। आरोपित की गिरफ्तारी के लिए क्राइम ब्रांच को जांच का जिम्मा सौंपा गया है। 

 हरिनारायणचारी मिश्र, डीआईजी