Follow us:

पाकिस्तान: 7 साल की जैनब के रेपिस्ट और हत्यारे इमरान को दी गई फांसी, घटना से भारत भी हिल गया था

लाहौर। पाकिस्तान में सात साल की नन्हीं बच्ची जैनब से बलात्कार और उसकी हत्या करने वाले एक सीरियल किलर को एक स्थानीय जेल में बुधवार को फांसी दे दी गई. नाबलिग बच्ची के पिता ने अदालत में दोषी को सार्वजनिक रूप से फांसी देने के लिए याचिका दायर की थी, जिसे अदालत ने खारिज कर दिया. सीरियल किलर इमरान अली को इस साल की शुरुआत में लाहौर से करीब 50 किलोमीटर दूर कसूर शहर में एक नाबालिग लड़की से बलात्कार और उसकी हत्या करने के मामले में दोषी ठहराया गया था. उसे आज सुबह कोट लखपत सेंट्रल जेल में फांसी दी गई.

पाकिस्तान के प्रतिष्ठित अख़बार ‘द डॉन’ की रिपोर्ट के मुताबिक अली (23) को मजिस्ट्रेट आदिल सरवर और मृतक के पिता की मौजूदगी में फांसी दी गई. लड़की के चाचा भी उस वक्त जेल में मौजूद थे. लाहौर हाई कोर्ट के जस्टिस सरदार शमीम अहमद और जस्टिस शाहबाज रिजवी की दो सदस्यीय पीठ ने मंगलवार को नाबालिग लड़की के पिता की उस याचिका को खारिज कर दिया था जिसमें उन्होंने दोषी को सरेआम फांसी देने की मांग की थी.

इसी साल जनवरी में घटना के दो हफ्ते बाद पुलिस ने इमरान को गिरफ्तार किया था. इमरान पर नाबालिगों से बलात्कार और उनकी हत्या करने की कम से कम नौ घटनाओं में शामिल होने का आरोप था. बताते चलें कि उस घटना के बाद पूरे पाकिस्तान में बड़े पैमाने पर उसके खिलाफ विरोध प्रदर्शन हुए थे. यहां की एक आतंक-निरोधक अदालत ने पिछले हफ्ते इमरान को फांसी की सजा सुनाई थी.

जैनब के साथ हुए इस जघन्य अपराध से सिर्फ पाकिस्तान ही नहीं बल्कि भारत भी हिलकर रह गया था. हत्या के दौरान हत्यारे इमरान ने जैसी बर्बरता की थी, उससे भारत के लोग एक बार फिर निर्भया के साथ साल 16 दिसंबर को हुई रेप की घटना को याद करके हिल गए थे. यहां भी सोशल मीडिया पर #JusticeForZainab की मांग उठी थी.

Related News