Follow us:

तारक मेहता का उल्टा चश्मा के डॉक्टर हंसराज हाथी का अंतिम संस्कार संपन्न, कई कलाकर हुए शामिल

नई दिल्ली। 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा (Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah)' के डॉक्टर हंसराज हाथी बने कवि कुमार आजाद (Kavi Kumar Azad) का अंतिम संस्कार (Funeral) आज दोपहर मीरा रोड श्मशान भूमि में हो गया. इस मौके पर 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' की टीम के उनके कई साथी मौजूद थे. कवि कुमार आनंद का निधन सोमवार को दिल का दौरा पड़ने से हुआ था. 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' के इस प्यारे से कैरेक्टर को घर पर दिल का दौरा पड़ा था, और जब उन्हें मीरा रोड स्थित वॉकहार्ट अस्पताल ले जाया गया तो उनका निधन हो चुका था.  कवि कुमार आनंद का विवाह नहीं हुआ था, और वे अपनी मम्मी, पापा, बहन और भाई के साथ रहते थे. 45 वर्षीय कवि कुमार का जन्म 1973 में बिहार में हुआ था।

4ihik9sboe3

कवि कुमार आजाद के अंतिम संस्कार में शामिल परिवार.

qso46rbb7a

डॉ. हंसराज हाथी के किरदार से हुए मशहूर.

orcyiqg7jkc

t2992ljftr

nb8o7a5d00f

कवि कुमार 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' का हिस्सा बनने से पहले 'मेला' और 'जोधा अकबर' जैसी फिल्मों में नजर आ चुके थे. कवि कुमार को कविताएं लिखने का भी बेहद शौक था, इसका इशारा उनके नाम से भी मिल जाता है. कवि कुमार आनंद 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' के साथ इस कॉमेडी सीरियल के शुरू होने के एक साल बाद जुड़े थे. वे 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' के साथ पिछले 9 साल से जुड़े थे।

डॉ. हंसराज हाथ उर्फ कवि कुमार आजाद के निधन के बारे में 'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' के निर्माता असित कुमार मोदी ने बताया था, "कवि कुमार आजाद कमाल के एक्टर थे और बहुत ही सकारात्मक इंसान थे. उन्हें शो से बहुत ज्यादा प्यार था और अगर वे बीमार भी होते तो भी शूटिंग पर आते. आज सुबह उनका कॉल आया कि उनकी तबियत ठीक नहीं है और वे शूट पर नहीं आ सकेंगे. थोड़ा देर बाद ये बुरी खबर आ गई. हम लोग सकते में हैं."