Follow us:

विजय माल्या की लंदन में गिरफ्तारी, थोड़ी देर में ही मिली जमानत

लंदन। शराब कारोबारी विजय माल्या को लंदन में गिरफ्तार कर लिया गया, लेकिन इसके साथ ही उसे मामले में जमानत भी मिल गई। माल्या की गिरफ्तारी मनी लॉन्ड्रिंग केस में हुई थी और सीबीआई के सूत्रों ने इसकी पष्टि की थी।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, लंदन में विजय माल्या को कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे जमानत भी मिल गई।

गौरतलब है कि विजय माल्या पर भारतीय बैंकों का 9 हजार करोड़ का कर्ज बकाया है। वह बिना कर्ज चुकाए लंदन फरार हो गया था। कुछ माह पहले माल्या को वेस्टमिंस्टर कोर्ट के आदेश के बाद 18 अप्रैल को गिरफ्तार किया गया था। गिरफ्तारी के कुछ ही देर बाद माल्या को जमानत पर रिहा भी कर दिया गया था। बता दें कि विजय माल्या भारतीय बैंकों का 9 हजार करोड़ का कर्ज चुकाए बिना लंदन फरार हो गया था।

बताते चलें कि प्रत्यर्पण मामले में किंगफिशर कंपनी के पूर्व प्रमुख विजय माल्या फिलहाल जमानत पर हैं। उन्हें 4 दिसंबर को सुनवाई शुरू होने से पहले अदालत में पेश होने से छूट मिली हुई थी। लिहाजा, 61 वर्षीय माल्या गुरुवार को वेस्टमिनिस्टर मेजिस्ट्रेट अदालत में पेश नहीं हुए। हालांकि ऐसा उन्होंने पहली बार किया है। लेकिन, विजय माल्या के स्थान पर उनके परिवार की एक महिला अदालत में पेश हुई।

भारत सरकार की ओर से मामले में बहस कर रहे क्राउन प्रोसीक्यूशन सर्विस (सीपीएस) ने बचाव पक्ष की ओर से हार्ड कापी में दस्तावेज पेश करने पर नाराजगी जतायी है। सीपीएस बैरिस्टर मार्क समर्स ने बताया कि उन्हें सुबूतों का बंडल सोमवार को ही मिला है। इसे स्कैन करके भारत भेजा जाना है।

मुख्य मजिस्ट्रेट जज एमा लुइस अर्बुथनॉट ने सीपीएस से इस मुद्दे पर सहानुभूति जताते हुए कहा कि ऐसा वर्ष 2017 में होना गलत है। साथ ही स्कैन कॉपी भी मुहैया कराने को कहा।