Follow us:

कोलकाता में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान हंगामा-आगजनी, रोड शो खत्म

तृणमूल और भाजपा कार्यकर्ताओं में झड़प, पुलिस ने लाठीचार्ज किया

रोड शो से पहले मोदी और शाह के पोस्टर हटाए गए, भाजपा ने तृणमूल को जिम्मेदार ठहराय

नई दिल्ली। लकाता में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान हंगामा हुआ है और रोड शो के दौरान आगजनी की गई है. टीएमसी छात्र परिषद, बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक झड़प हुई है. अमित शाह ने रोड शो खत्म कर दिया है।

अमित शाह ने कहा- 23 तारीख को बंगाल में 23 से ज्यादा सीटें भाजपा जीतने जा रही है। बंगाल और देश की जनता मोदीजी को प्रधानमंत्री देखना चाहती है। मेरी ममताजी को सलाह है कि गुस्सा बढ़ाने से बीपी बढ़ जाता है और ऐसा करना इस उम्र में ठीक नहीं है। इसे बंद कर दें। कहीं पर भी हमने विपक्ष के साथ ऐसा व्यवहार नहीं किया।

रोड शो से पहले पोस्टर हटाए गए

रोड शो से पहले कुछ लोगों ने मोदी और शाह के पोस्टरों को हटा दिया गया। भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने इसके पीछे ममता सरकार का हाथ बताया। उन्होंने कहा, ''मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के गुंडों और पुलिस ने पोस्टर और झंडे निकाल दिए। जैसे ही हम लोग पहुंचे वे यहां से भाग गए।''

केंद्रीय बलों की तैनाती पर ममता का आयोग को पत्र

ममता सरकार ने 7वें चरण में केंद्रीय बलों की तैनाती को लेकर चुनाव आयोग को पत्र लिखा है। इसमें सरकार ने क्विक रेस्पॉन्स टीम में स्थानीय अफसर न रखने के फैसले पर विचार करने को कहा है। ममता ने कहा कि केंद्रीय बल स्थानीय पुलिस को संपर्क में नहीं रख रहे हैं।

ममता ने हेलिकॉप्टर को उतरने की इजाजत नहीं दी थी

सातवें चरण में बंगाल की 9 सीटों पर मतदान होना है। इसके मद्देनजर शाह की सोमवार को तीन रैलियां होनी थीं, लेकिन उन्हें जाधवपुर में हेलिकॉप्टर उतारने की अनुमति नहीं मिली थी। इसके बाद शाह ने जॉय नगर में जनसभा की थी। यहां उन्होंने कहा था- मेरी यहां तीन रैलियां होनी थीं। जॉयनगर में तो आ गया मगर दूसरी जगह ममता दीदी के भतीजे की सीट थी। वहां पर हमारे जाने से ममताजी डरती हैं कि भाजपा वाले इकट्ठे होंगे तो भतीजे का तख्त उल्टा हो जाएगा। इसलिए उन्होंने सभा की इजाजत नहीं दी।

योगी को सभा के लिए मिली अनुमति वापस ली गई

पश्चिम बंगाल में योगी आदित्यनाथ की सभाओं की अनुमति को भी रद्द कर दिया गया है। पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने सोमवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 15 मई को योगी दक्षिण पश्चिम कोलकाता में बेहाला इलाके में जेम्स लॉग सारानी में जनसभा करने वाले थे। प्रशासन ने पहले इसके लिए अनुमति दे दी थी, लेकिन सोमवार को इसे वापस ले लिया गया। योगी को इसी दिन उत्तर 24 परगना जिले के हावड़ा में एक और उत्तर कोलकाता के फूलबागान में एक रैली को संबोधित करना था। राज्य में लोकसभा चुनाव के अंतिम चरण में 19 मई को वोट डाले जाएंगे।

 

Related News