Follow us:

वाराणसी हादसाः पति-बेटे संग जा रही थी स्टेशन, रास्ते में उजड़ गई दुनिया

वाराणसी। वाराणसी में पुल का पिलर गिरने से 18 लोगों की मौत हो गई। इस हादसे में कई परिवारों की खुशियां हमेशा के लिए उजड़ गईं। दर्द से कराहते लोग अस्पतालों में भर्ती हैं वहीं उनके रिश्तेदार इस हादसे में अपनी जान गंवा बैठे। ऐसी ही एक महिला है जो अस्पताल में गंभीर रूप से घायल होने के कारण भर्ती है। इस हादसे ने उसके पूरी दुनिया बर्बाद कर दी।

दरअसल वाराणसी के राम बाहदुर अपनी पत्नी और बेटे को कैंट स्टेशन छोड़ने जा रहे थे। उनका बेटा वैभव कोटा में रहकर इंजीनियरिंग की तैयारी कर ररहा था। उसकी पढ़ाई में मदद करने और खाने-पीने का ध्यान रखने के लिए उसकी मां भी उसके साथ कोटा में ही रह रही थीं।

कुछ ही दिन पहले मां-बेटा वाराणसी आए थे और मंगलवार को कोटा जाने के लिए घर से निकले। पिता रामबहादुर सिंह वैभव और अपनी पत्नी को रेलवे स्टेशन छोड़ने जा रहे थे लेकिन वो स्टेशन पहुंचते इससे पहले मौत पहुंच गई और पिता-बेटे को साथ ले गई। हादसे में वैभव की मां गंभीर रूप से घायल हो गई जिसका इलाज जारी है। अचानक हुए इस हादसे से राम बहादुर के रिश्तेदार स्तब्ध हैं।