Follow us:

RSS नेता के हत्यारे की हुई पहचान, जानिए आतंकी जाहिद हुसैन के बारे में

किश्तवाड़। जम्मू के किश्तवाड़ में बीते दिनें आरएसएस नेता चंद्रकांत शर्मा की हत्या के मुख्य आरोपी आतंकी की पहचान कर ली गई है। जानकारी के मुताबिक, इस साजिश को जाहिद हुसैन ने अपने साथियों के साथ मिलकर अंजाम दिया था। हमले में शामिल अल्टो कार जाहिद ने ही खरीदी थी। वह हिज्बुल मुजाहिद्दीन की किलर टीम का सदस्य है। 25 वर्षीय जाहिद के दो भाई भी आतंकी रह चुके हैं। पुलिस अब जाहिद की तलाश में जुट गई है।

मालूम हो, बीती 9 अप्रैल को किश्तवाड़ में आतंकियों ने मेडिकल असिस्टेंट और आरएसएस नेता चंद्रकांत शर्मा और उनके एक निजी सुरक्षा कर्मचारी (पीएसओ) की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी थी। आतंकियों ने वारदात को अंजाम दिनदहाड़े जिला अस्पताल परिसर में दिया था। हत्याओं को अंजाम देने के बाद आतंकी फरार होने में कामयाब रहे थे।

वारदात को दोपहर 12 बजकर 45 मिनट पर अंजाम दिया गया था। चंद्रकांत शर्मा किश्तवाड़ के ब्राह्माण मोहल्ला जिला अस्पताल में मेडिकल असिस्टेंट के पद पर कार्यरत थे। चंद्रकांत ओपीडी के बाहर किसी से बात कर रहे थे उस वक्त उनके साथ तीन निजी सुरक्षा कर्मचारी भी मौजूद थे।

मौके पर मौजूद लोगों ने बताया था कि कुर्ता पजामा और सिर पर टोपी पहने आतंकी बैग लटकाए अस्पताल परिसर में आया। उसने मुंह पर रुमाल बांध रखा था। पीएसओ से थोड़ी दूरी पर उसने बैग से पहले से तैयार कर रखी एके-47 निकाली और चंद्रकांत के सुरक्षा कर्मचारी कांस्टेबल राजेंद्र को निशाना बना कर अंधाधुंध फायरिंग कर दी।गोलियां चंद्रकांत शर्मा के बांयी तरफ पेट में लगी। इसी बीच, हमलावर आतंकी ने शहीद निजी सुरक्षा कर्मचारी राजेंद्र की राइफल उठा ली। इस दौरान एक अन्य सुरक्षाकर्मी ने अपनी पिस्टल से आतंकी पर फायर किया, लेकिन वह अस्पताल में मची अफरातफरी में भाग निकला।

डॉक्टरों ने तुरंत प्राथमिक उपचार करने के बाद चंद्रकांत को जम्मू रेफर कर दिया। चंद्रकांत शर्मा को एयरलिफ्ट के जरिए जम्मू पहुंचाया गया। इस बीच शाम को आरएसएस नेता ने गर्वनमेंट मेडिकल कॉलेज (जीएमसी) अस्पताल में दम तोड़ दिया।

जांच में सीसीटीवी कैमरों में छेड़छाड़ की बात सामने आ रही है।हमले में अस्पताल के अंदर के किसी व्यक्ति के शामिल होने की आशंका जताई जा रही है। माना जा रहा है कि इस हमले को अंजाम देने के लिए आतंकियों ने कई दिनों तक रेकी की थी।