Follow us:

महाराष्ट्र : कांग्रेस के नाना पटोले निर्विरोध स्पीकर चुने गए, मुख्यमंत्री ठाकरे ने कहा- वे सबके साथ न्याय करेंगे

फडणवीस ने कहा- महाराष्ट्र में निर्विरोध स्पीकर चुनने की परंपरा है, इसलिए किशन कठोरे का नाम वापस लिया

मुंबई। कांग्रेस के नाना पटोले रविवार को महाराष्ट्र विधानसभा के निर्विरोध स्पीकर चुने गए। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे उन्हें स्पीकर की चेयर तक लेकर गए। सीएम ने कहा कि नाना पटोले किसान परिवार से आते हैं। उम्मीद है कि वह सबके साथ न्याय करेंगे। भाजपा ने शनिवार को किशन कठोरे को स्पीकर पद के लिए नामित किया था। हालांकि, आज सर्वदलीय बैठक के बाद भाजपा ने उम्मीदवारी वापस लेने का फैसला किया।

पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि हमने बैठक में दूसरे दलों की गुजारिश के बाद कठोरे का नाम वापस लिया है। क्योंकि महाराष्ट्र में निर्विरोध स्पीकर चुनने की परंपरा रही है।

पटोले विदर्भ की सकोली सीट से चार बार के विधायक
नाना पटोले (56) विदर्भ की सकोली सीट से चार बार के विधायक हैं। 2014 में उन्होंने कांग्रेस का साथ छोड़कर भाजपा का दामन थामा था और लोकसभा चुनाव में जीत दर्ज की थी। हालांकि, दिसंबर 2017 में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के साथ अनबन के कारण उन्होंने भाजपा छोड़कर वापस कांग्रेस का हाथ थाम लिया था।

शिवसेना ने पास किया फ्लोर टेस्ट
विधानसभा के विशेष सत्र में शनिवार को महाराष्ट्र विकास अघाड़ी (शिवसेना-राकांपा और कांग्रेस) सरकार ने 169 वोटों से विश्वास मत (फ्लोर टेस्ट) हासिल कर लिया। कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण ने सदन में प्रस्ताव पेश किया। भाजपा ने इस सत्र पर सदन में आपत्ति जताई और विश्वास मत से पहले उसके 105 विधायकों ने वॉकआउट किया। जबकि वोटिंग के दौरान एआईएमआईएम, माकपा और मनसे के 4 विधायक तटस्थ रहे। सरकार के विरोध में कोई वोट नहीं पड़ा। गठबंधन में शामिल तीनों दलों के पास 154 विधायक हैं, सरकार को इससे 15 वोट ज्यादा मिले। बहुजन विकास अघाड़ी और समाजवादी पार्टी ने सरकार का समर्थन किया।

 

Related News