Follow us:

नसीरुद्दीन शाह बोले- 'अनुपम खेर को सीरियसली लेने की जरूरत नहीं, JNU गईं दीपिका पादुकोण साहसी हैं'

नई दिल्ली। बॉलीवुड एक्टर नसीरुद्दीन शाह ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और एनआरसी के खिलाफ देश भर में चल रहे विरोध-प्रदर्शनों पर बयान दिया है। उन्होंने यह भी बताया कि ज्यादातर सामाजिक मुद्दों पर बॉलिवुड ऐक्टर्स खामोशी क्यों रखते हैं। 'द वायर' को दिए गए एक एक्सक्लूसिव इंटरव्यू में नसीरुद्दीन शाह ने दूसरे कलाकारों के नजरिये पर भी बात की। उन्होंने इंटरव्यू में खासतौर पर अनुपम खेर का जिक्र करते हुए कहा, 'मैं ट्विटर पर नहीं हूं, ट्विटर पर मौजूद इन लोगों के बारे में मैं वास्तव में चाहता हूं कि वे जिस चीज के बारे में विश्वास रखते हैं उस पर अपना मन बना लें।'

उन्होंने कहा, 'अनुपम खेर जैसे लोग काफी मुखर हैं। मुझे नहीं लगता कि उनको बहुत ज्यादा तवज्जो दिए जाने की जरूरत है, वह एक मसखरे हैं, उनके एनएसडी और एफटीआईआई के साथी सायकोपैथिक नेचर को बता सकते हैं, यह उनके खून में है और इसे वह नहीं बदल सकते। दूसरी तरफ जो लोग विरोध कर रहे हैं उन्हें फैसला लेना चाहिए कि वे कहना क्या चाहते हैं, हमें हमारी जिम्मेदारी याद न दिलाएं, हम अपनी जिम्मेदारी जानते हैं।'

सीएए पर बड़े एक्‍टर्स की खामोशी को लेकर पूछे गए सवाल पर नसीरुद्दीन शाह ने कहा, 'यह समझने लायक है कि बॉलीवुड इंडस्‍ट्री के बड़े नाम क्‍यों कुछ नहीं बोल रहे. आप लोगों को दीपिका जैसी लड़की की हिम्‍मत की सराहना करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि दीपिका पादुकोण का भी काफी नुकसान हो सकता है लेकिन वह वह पब्लिक में खुलकर अपनी एकजुटता दिखाने सामने आईं।

 

Related News