Follow us:

अब एक मिस कॉल के जरिए मिल जाएगी FASTag बैलेंस की जानकारी, इस नंबर का करना होगा इस्तेमाल

नई दिल्ली। नेशनल हाईवे ऑथोरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआई) ने एक नई सुविधा की शुरुआत की है जिसके जरिए लोग अपनी यात्रा शुरू करने से पहले फास्टैग अकाउंट बैलेंस के बारे में जान सकेंगे. नई सुविधा के तहत यूजर्स को एनएचएआई प्रीपेड वॉलेट पर मिस्ट कॉल अलर्ट की सुविधा मिलेगी. फास्टैग यूजर्स को अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से +91-8884333331 इस नंबर पर मिस कॉल देनी होगी और उन्हें उनके बैलेंस के बारे में जानकारी मिल जाएगी.

मिस्ट कॉल अलर्ट की ये सुविधा पूरी तरह से फ्री है और यूजर्स इसका इस्तेमाल कभी भी कर सकते हैं. यहां तक कि फास्टैग ऐप के लिए भी इंटरनेट कनेक्शन की जरूरत नहीं है. लेकिन ये सुविधा सिर्फ उनके लिए है एनएचएआई प्रीपेड वॉलेट से लिंक्ड हैं.

NHAI प्रीपेड वॉलेट के लॉन्च के बाद लगभग 2.25 लाख से अधिक NHAI FASTag यूजर्स ने My FASTag ऐप का उपयोग करके अपने प्रीपेड वॉलेट का ऑप्शन चुना है. NHAI FASTag को My FASTag ऐप का उपयोग करके सेविंग एकाउंट या NHAI प्रीपेड वॉलेट से जोड़ा जा सकता है. अभी 13 बैंक हैं जिनके बैंक खाते को NHAI FASTag से जोड़ा जा सकता है. My FASTag ऐप Android और iOS दोनों प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध है.

वॉलेट से एक से अधिक गाडि़यों के नंबर लिंक हैं तो क्‍या होगा?

अगर मान लीजिए कि आपके वॉलेट से एक से अधिक गाडि़यों के नंबर लिंक हैं तो ऐसे में मिस कॉल देने पर सभी गाडि़यों का कुल बैलेंस बताया जाएगा. लेकिन उसके बाद रजिस्‍टर्ड मोबाइल पर एक और एसएमएस आएगा जिसमें जिस गाड़ी का बैलेंस सबसे कम है, उसकी जानकारी होगी.


फास्टैग स्केनर काम नहीं कर रहा हो तो?
एनएचएआई के सभी टोल पर फास्टैग को अनिवार्य कर देने से देश को सालाना 12 हजार करोड़ रुपए की बचत होगी. इसमें फ्यूल और मैन ऑवर्स को भी जोड़ा गया है. साथ ही किसी टोल प्लाजा पर अगर फास्टैग स्कैनर में कोई खराबी हो या फास्टैग स्केनर काम नहीं कर रहा हो तो ऐसी स्थिति में वाहन चालक जिम्मेदार नहीं होंगे और वाहन मालिक को कोई पैसा नहीं चुकाना होगा.

क्या है फास्टैग ?

टोल प्लाजा पर ट्रैफिक का दबाव कम करने के लिए केंद्र सरकार ने सभी टोल प्लाजा पर इलेक्ट्रोनिक ट्रांजैक्शन की सुविधा दी है. इसके तहत सभी टोल प्लाजा से गुजरने वाले वाहनों को टोल टैक्स देने के लिए ‘फास्टैग’ का इस्तेमाल करना होगा. फास्टैग के जरिए देश भर के टोल प्लाजा पर ऑटोमैटिक कैशलेस पेमेंट किया जा सकता है. इसके अलावा भी फास्टैग की अन्य विशेषताएं हैं. इलेक्ट्रोनिक टोल कलेक्शन सिस्टम एक डिवाइस है. जिसे दोबारा लोड किया जा सकता है. ये आपकी गाड़ी के विंडस्क्रीन पर चिपका रहता है. जिससे बिना गाड़ियों को रोके खुद ब खुद टोल टैक्स अदा हो जाता है. और टोल प्लाजा पर बिना कैश दिये आप आसानी से गुजर जाते हैं.

 

Related News