Follow us:

NCP अध्यक्ष शरद पवार ने किसानों की हालत पर जताई चिंता, कहा - 'अतिवृष्टि से किसानों को हुआ बड़ा नुकसान'

मुंबई। महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर जारी मंथन के बीच शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस द्वारा एक ड्राफ्ट तैयार किया गया है जिस पर तीनों दलों के आलाकमान की सहमति मिलना बाकी है। इस बीच नई सरकार ना बन पाने की वजह से अतिवृष्टि से परेशान किसानों की मुश्किलें और बढ़ गई हैं। इस बीच शुक्रवार को एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार ने प्रेस कांफ्रेंस ली है। किसानों की वर्तमान हालत पर चिंता जताते हुए शरद पवार ने कहा कि बेवक्त हुई बारिश ने किसानों की ज्यादातर फसल को बर्बाद कर दिया है। इस वजह से किसानों को अभूतपूर्व नुकसान हुआ है। पवार ने कहा कि राज्य में संतरे की फसल को बुरी तरह नुकसान पहुंचा है। वही दूसरी ओर सोयाबीन और धान का दाना भी काफी छोटा रह गया है। इस वजह से किसानों की कमर टूट गई है।

प्रेस कांफ्रेंस के दौरान शरद पवार ने कहा कि प्रदेश के संतरा किसानों को आर्थिक मदद की जरुरत है। ज्यादा बारिश ने बड़ा नुकसान कर डाला है। ऐसे में किसानों की मदद के लिए केंद्र सरकार को आगे आना चाहिए।

महाराष्ट्र में नई सरकार पर जारी है संकट

महाराष्ट्र में राजनीतिक अस्थिरता के बाद राष्ट्रपति शासन लागू हो चुका है। किसी भी दल द्वारा बहुमत साबित ना कर पाने के बाद राज्यपाल ने यह सिफारिश की थी। बता दें कि सूबे में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी मिलकर सरकार बनाने की कवायद में जुटी हुईं हैंं। इसे लेकर कॉमन मिनिमम प्रोग्राम का ड्राफ्ट भी तैयार हो चुका है। तीनों दलों के आलाकमान के पास इसे भेजा जा चुका है। तीनों दल अगर इस ड्राफ्ट पर मंजूर हो जाते हैं तो राज्य में तीन दलों की गठबंधन सरकार बनाना तय है।

Related News