Follow us:

अमित शाह बोले- बीमार पर्रिकर से मुलाकात के बाद राहुल गांधी ने की ओछी राजनीति

पुणे। बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर से मुलाकात करने को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर बड़ा हमला बोला है. अमित शाह ने कहा है कि राहुल गांधी ने बीमार मनोहर पर्रिकर से मुलाकात के बाद जैसी ओछी राजनीति की है, ऐसा देश में कभी किसी ने नहीं किया. अमित शाह ने आज बीमार चल रहे मनोहर पर्रिकर से डोना पाउला में उनके आवास पर मुलाकात की थी.

अमित शाह ने क्या कहा है?

महाराष्ट्र के पुणे में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा, ‘’राहुल गांधी बिना किसी पूर्व सूचना के मनोहर पर्रिकर से मिलने आए, लेकिन जैसी ओछी राजनीति उस मुलाकात के बाद उन्होंने की, ऐसा देश में कभी किसी ने नहीं किया.’’

BJP
@BJP4India
राहुल गांधी बिना किसी पूर्व सूचना के मनोहर पर्रिकर जी से मिलने आये, लेकिन जैसी ओछी राजनीति उस मुलाकात के बाद उन्होंने की, ऐसा देश में कभी किसी ने नहीं किया : श्री अमित शाह
1,799
7:57 PM - Feb 9, 2019

कार्यक्रम में मौजूद थे मनोहर पर्रिकर
बता दें कि इस कार्यक्रम में मनोहर पर्रिकर भी मौजूद थे. उनकी नाक में अभी भी नली लगी हुई है. पिछले एक साल से 63 साल के मनोहर पर्रिकर अपनी बीमारी की वजह से पणजी, मुंबई, दिल्ली और अमेरिका के अस्पतालों में रहे हैं.

अमित शाह ने कहा, ‘’पर्रिकर जी अस्वस्थ होते हुए भी यहां आये, मैंने उन्हें यहां आने से मना किया तो उन्होंने कहा कि मेरी पार्टी के कार्यकर्त्ता आए हैं, दो मिनट के लिए ही सही मैं उनसे मिलूंगा जरूर. बीजेपी के कार्यकर्ता की पार्टी के प्रति निष्ठा का सर्वोत्तम उदाहरण पर्रिकर जी ने पेश किया है.’’

अपने भाषण में अमित शाह ने कहा, ‘’प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली बीजेपी सरकार साल 2014 से देश के 'विकास को नई दिशा' दे रही है.’’ उन्होंने मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस समेत पार्टी नेताओं की बैठक को संबोधित करते हुए कहा, "जो 55 सालों में प्राप्त नहीं किया जा सका, उसे मोदीजी ने 55 महीने में प्राप्त कर लिया. बीजेपी विकास पर जोर देती है और हालिया बजट ने समाज के सभी धड़ों के साथ न्याय किया है."

विपक्षी पार्टियों की आलोचना करते हुए उन्होंने कहा, ‘’कोई भी आगामी चुनावों में बीजेपी के विजय रथ को नहीं रोक सकता और विपक्ष का कोई भी महागठबंधन हमें सत्ता में वापस आने से नहीं रोक सकता.’’

पर्रिकर से राहुल की मुलाकात पर क्या विवाद है?

दरअसल राहुल गांधी ने 29 जनवरी को मनोहर पर्रिकर से मुलाकात की थी. पर्रिकर से मुलाकात के बाद राहुल ने दावा किया था कि पर्रिकर जी ने खुद कहा है कि राफेल डील बदलते समय पीएम मोदी ने हिंदुस्तान के रक्षा मंत्री से नहीं पूछा था.’’ राहुल के इस दावे के बाद मनोहर पर्रिकर ने उनको चिट्ठी लिखकर इस दावे को खारिज कर दिया था. पर्रिकर ने पत्र में कहा था कि राहुल गांधी से मात्र पांच मिनट मुलाकात हुई थी और इस मुलाकात में राफेल डील पर कोई बात नहीं हुई. आपने राजनीतिक फायदे के लिए राहुल गांधी ने देश के सामने झूठ बोला है. बता दें कि मनोहर पर्रिकर रक्षा मंत्री भी रह चुके हैं।

Related News