Follow us:

सिंगापुर में बोेले राजनाथ सिंह, कहा - हमारे एक पड़ोसी देश का नाम पाकिस्तान है, लेकिन उसकी हरकतें नापाक

दो दिवसीय यात्रा पर सिंगापुर पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने प्रवासी भारतीयों को संबोधित किया

राजनाथ ने कहा- हम अपनी सरकार बनाने के लिए नहीं, बल्कि राष्ट्र निर्माण के लिए राजनीति करते हैं

नई दिल्ली। दो दिवसीय यात्रा पर सिंगापुर पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को प्रवासी भारतीयों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि हमारा एक पड़ोसी देश पाकिस्तान है, लेकिन उसकी हरकतें अपने नाम के उलट नापाक हैं। हालांकि वह देश इस तरह से ज्यादा दिन सही सलामत नहीं रह सकेगा। सिंगापुर दौरे पर राजनाथ ने मंगलवार को सुपर प्यूमा हेलिकॉप्टर में उड़ान भी भरी थी। राजनाथ ने सिंगापुर में ही सुभाष चंद्र बोस को भी श्रद्धांजलि भी दी थी।

विकास के लिए अनुच्छेद 370 हटाना जरूरी था: राजनाथ
राजनाथ ने कहा, ‘‘हमारी सरकार भारत की सुरक्षा से कभी समझौता नहीं करेगी। हम अपनी सरकार बनाने के लिए राजनीति नहीं करते। हमारा उद्देश्य राष्ट्र निर्माण का होता है।’’

अनुच्छेद 370 को लेकर राजनाथ ने कहा कि आजादी के बाद से ही एक पूर्ण राज्य (जम्मू और कश्मीर) देश के बाकी हिस्सों के साथ एकीकृत नहीं था। यह दुर्भाग्यपूर्ण था। लोगों को समझना चाहिए कि जम्मू-कश्मीर के विकास के लिए यह जरूरी था।

उन्होंने कहा कि आज हमारी अर्थव्यवस्था करीब 2.7 ट्रिलियन डॉलर है। हमारी सरकार का प्रमुख लक्ष्य 2024 तक इसे दोगुने यानी 5 ट्रिलियन डॉलर से ज्यादा तक पहुंचाना है।

राजनाथ ने सुपर प्यूमा हेलिकॉप्टर में उड़ान भी भरी। उन्होंने सिंगापुर में ही सुभाष चंद्र बोस को भी श्रद्धांजलि भी दी। माना जाता है कि 1945 में सिंगापुर से टोक्यो जाते समय विमान हादसे में सुभाष चंद्र बोस की मौत हो गई थी। साथ ही राजनाथ बुधवार को क्रंजी वार मेमोरियल पहुंचकर दूसरे विश्व युद्ध के दौरान शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि दी।

राजनाथ ने कहा कि सिंगापुर में रहने वाले भारतीयों ने अपनी मेहनत, ऊर्जा, प्रतिभा और लगन के चलते भारत एवं भारतवासियों के बारे में यहां एक सकारात्मक छवि बनाई है। यहां के भारतवंशियों के साथ भारत का एक भावनात्मक संबंध हमेशा बना रहेगा।

 Image

Image

 

 

 

Related News