Follow us:

रतलाम की दिव्या बनी मिसेज इंडिया 2018, अब मिसेस यूनिवर्स में लेंगी हिस्‍सा

रतलाम। दिल्ली में हुई मिसेज इंडिया माई आईडेंटिटी ब्यूटी पेजेंट 2018 में रतलाम की दिव्या पाटीदार जोशी को मिसेज इंडिया 2018 का खिताब मिला है। दिव्या ने देश के विभिन्न राज्‍यों से सम्मिलित अंतिम 24 प्रतिभागियों को शिकस्त देकर मिसेस इंडिया का ताज हासिल कि या। अब वह 2019 में विश्व स्तर के मिसेस यूनिवर्स में भाग लेकर 125 करोड़ की जनसंख्या वाले भारत देश का प्रतिनिधित्व करेंगी।

29 वर्षीय दिव्या रतलाम शहर के महू रोड निवासी शासकीय शिक्षक वीसी पाटीदार, राधा पाटीदार की बेटी व यूके में नेवी ऑफिसर प्रयास जोशी (रतलाम गांधीनगर निवासी) की पत्नी है। दिव्या ने यह ताज पिछले छह माह की मेहनत में जीता है। नेट के जरिए मुंबई में अप्लाई कि या। इसके बाद उन्हें वहां बुलाया गया। करीब चार माह पहले मुंबई में हुई स्पर्धा में 3000 प्रतिभागियों के साथ दिव्या ने भाग लिया था।

दिव्या ने ब्यूटी विद ब्रेन के सभी राउंड में सफलता प्राप्त कर फाइनल में स्थान बनाया था। इस दौरान दिव्या ने बेस्ट वॉक का खिताब भी जीता। 19 दिसंबर को दिल्ली में यह फाइनल राउंड हुआ। इसमें मिसेस इंडिया माई आईडेंटिटी ब्यूटी पेजेंट 2018 के लिए चुना गया। दिल्ली से पूरी प्रक्रिया के बाद वह रतलाम लौटी है।

राष्ट्रपति पुरस्कार भी मिल चुका है

दिव्या को तत्कालीन राष्ट्रपति प्रतिभा पाटील भी सम्मानित कर चुकी है। यह सम्मान वर्ष 2012 में एनएसएस सेवा गतिविधियों में शामिल होने पर दिया गया था। इसके अलावा इंडियन आइडल फे म 2008 में भी सहभागिता कर चुकी है।

दिव्या ने बताया कि वह अपने एनजीओ द ग्रोइंग इंडिया फाउंडेशन के माध्यम से बाल श्रमिकों को शिक्षा की मुख्यधारा से जोड़ने एवं महिलाओं से जुड़ी समस्याओं कु प्रथा, रुढ़विादिता व अंधविश्वास समाप्त करने को लेकर प्रयासरत है। वह अपनी सफलता का श्रेय ससुराल व मायका पक्ष को देती हैं। इस उपलब्धि में नानी एवं दादी का सराहनीय योगदान रहा। अब वह विश्व स्तर के मिसेस यूनिवर्स में शामिल होकर देश का प्रतिनिधित्व करेंगी