Follow us:

SBI ने कर्ज पर ब्याज दरों में 0.05% की कटौती की, मामूली सस्ते होंगे लोन

नई दिल्लीः देश के सबसे बड़े भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) अपनी लोन की ब्याज दरों में 0.05 फीसदी की मामूली कटौती की है. नई दरें 10 अप्रैल से प्रभावी हो जाएंगी. नवंबर, 2017 के बाद एसबीआई ने पहली बार ब्याज दर में कटौती की है. कई अन्य छोटे बैंक इससे पहले अपने लोन पर ब्याज दर में कटौती का एलान कर चुके हैं.

बैंक ने बयान में कहा कि संशोधित कोष की मार्जिनल कॉस्ट ऑफ लैंडिंग रेट (एमसीएलआर) को 8.55 से घटाकर 8.50 फीसदी किया गया है. एसबीआई ने करीब 17 महीने बाद अपने एमसीएलआर में कटौती की है. इससे पहले नवंबर, 2017 में एसबीआई ने एमसीएलआर में 0.05 फीसदी की कटौती की थी.

एसबीआई ने संशोधित दर वाले 30 लाख रुपये तक के आवास लोन पर भी ब्याज दर में 0.10 फीसदी की कटौती की है. इसके साथ अब 30 लाख रुपये से कम के होम लोन पर नई ब्याज दर 8.60 से 8.90 फीसदी होगी जो अभी तक 8.70 से 9 फीसदी है.

भारतीय रिजर्व बैंक ने हाल में अपनी चालू वित्त वर्ष की पहली द्विमासिक मौद्रिक समीक्षा में रेपो दर को 0.25 फीसदी घटाकर छह फीसदी किया था. एसबीआई तीसरा सार्वजनिक क्षेत्र का बैंक है जिसने अपना लोन सस्ता किया है. एसबीआई से पहले इंडियन ओवरसीज बैंक और बैंक आफ महाराष्ट्र ने भी एक साल और उससे अधिक की अवधि के लोन पर ब्याज दर में 0.05 फीसदी की कटौती की है.

इंडियन ओवरसीज बैंक ने एक साल के लोन पर एमसीएलआर को 8.70 फीसदी से घटाकर 8.65 फीसदी करने की घोषणा की है. वहीं बैंक आफ महाराष्ट्र ने पांच अप्रैल को विभिन्न परिपक्वता अवधि के कर्ज पर ब्याज दरों में 0.05 फीसदी की कटौती की थी.