Follow us:

अमरीका की चर्च में गोलीबारी से 26 की मौत, मारा गया हमलावर

ह्यूस्टन। अमेरिका के टेक्सास स्थित एक बैपटिस्ट चर्च के बाहर एक बंदूकधारी ने अंधाधुंध गोलियां चलाई। जिससे पादरी की 14 वर्षीय बेटी सहित कम से कम 26 लोगों की मौत हो गई। सैन एंटोनियो के दक्षिण पूर्व में सदरलैंड स्प्रिंग्स के फर्स्ट बैपटिस्ट चर्च में कल हुई गोलीबारी में कम से कम 20 लोग घायल हो गए। टैक्सास के गवर्नर ग्रेग एबॉट ने 26 लोगों के मारे जाने की पुष्टि की है। यहां के जन सुरक्षा विभाग के प्रवक्ता फ्रीमेन मार्टिन ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि मृतकों में एक गर्भवती महिला के साथ-साथ पांच साल के बच्चे से लेकर 72 वर्षीय बुजुर्ग तक शामिल हैं। गवर्नर तथा अन्य प्राधिकारियों ने पुष्टि की है कि गोलीबारी करने वाले व्यक्ति की उम्र 20 साल के आसपास थी, वह श्वेत था और हथियारों से लैस था। टैक्सास के एक अधिकारी ने बताया कि बंदूकधारी सैन एंटोनियो के पूर्वोत्तर में स्थित कॉमेल काउंटी से आया था। उन्होंने बताया ‘‘वह यहां आया, गोलीबारी की और फिर उत्तरी हिस्से की ओर गया।’’

फ्रीमैन ने बताया कि बंदूकधारी ने गोलीबारी करने के बाद अपनी रायफल नीचे रख दी और चर्च से चला गया। यह रगेर एआर असाल्ट रायफल थी। उन्होंने बताया ‘‘सुबह 11 बज के करीब 20 मिनट पर काले कपड़े पहने संदिग्ध व्यक्ति चर्च में आया और असाल्ट रायफल से उसने गोलियां चलानी शुरू कर दी। फिर वह चर्च के अंदर भी घुसा और लगातार गोली चलाता रहा।’’

टैक्सास के जन सुरक्षा विभाग के टॉम विन्गेर ने एक बयान में बताया ‘‘बाद में गोलीबारी करने वाले को गुआदेलपे काउंटी में उसकी ही गाड़ी में मृत पाया गया। यह पता नहीं चल पाया है कि वह कैसे मरा। इसकी जांच की जा रही है। घायलों को सैन एंटोनियो मेडिकल सेंटर और सैन एंटोनियो के यूनिर्विसटी अस्पताल ले जाया गया है।’’

गवर्नर एबॉट ने संवाददाता सम्मेलन में बताया ‘‘इस भयावह घटना के ब्यौरे की जांच की जा रही है। हमारी संवेदनाएं पीड़ितों के साथ हैं।’’

अधिकारियों ने बताया ‘‘चर्च में गोलीबारी में 26 लोगों की जान गई है। 23 लोग चर्च के अंदर मृत पाए गए।’’

टैक्सास के इतिहास में यह सर्वाधिक भयावह गोलीबारी है। गोलीबारी में चर्च के पादरी फ्रैंक पोमेरॉय की 14 वर्षीय बेटी एनाबेल भी मारी गई। पोमेरॉय ने एबीसी न्यूज को बताया ‘‘जब गोलीबारी हुई तब मैं चर्च में नहीं था। मेरी छोटी बेटी भी......।’’

पूर्वी एशिया के दो सप्ताह के दौरे पर गए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने जापान से टैक्सास के गवर्नर एबॉट से बात की और मृतकों के प्रति संवेदना जाहिर की है। ट्रंप ने कहा ‘‘मैं जापान से स्थिति पर नजर रख रहा हूं। एफबीआई और कानूनी एजेंसियों के अधिकारी मौके पर हैं। मेरी संवेदनाएं पीड़ितों के साथ हैं।’’

उन्होंने कहा कि उनका प्रशासन टैक्सास के लोगों को पूरा सहयोग प्रदान करेगा और स्थानीय अधिकारी घटना की जांच कर रहे हैं।