Follow us:

अगले 10 साल में ऊंची-ऊंची मूर्तियों का देश होग भारत, पढ़िए कहां क्या बन रहा है

नई दिल्ली। पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात में 'Statue of Unity' का लोकार्पण कर दिया और इसी के साथ भारत में ऊंची-ऊंची मूर्तियों की होड़ शुरू हो गई। अब कई राज्यों में ऊंची-ऊंची मूर्तियां बनाई जा रहीं हैं। इनमें से कुछ सरदार पटेल की मूर्ति से ऊंची होंगी। दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति कौन सी होगी और वो कब तक सबसे ऊंची रहेगी, फिलहाल कह पाना मुश्किल है।


रिपोर्ट्स के अनुसार बताया अमेरिका में स्थित 'स्टैच्यू ऑफ लिबर्टी' (93 मीटर) की दोगुनी सरदार की ये मूर्ति बस 3 साल तक दुनिया की सबसे ऊंची मूर्ति कहलाई जाएगी। गुजरात में बने 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' से भी बड़ा छत्रपति शिवाजी का स्टैच्यू मुंबई में अरब सागर में बनाया जाएगा। जो दुनिया का सबसे बड़ा स्टैच्यू कहलाया जाएगा।


अनुमान लगाया जा रहा है शिवाजी के विशाल स्टैच्यू को बनने में 3 साल लग सकते हैं। यानी इस स्टैच्यू के बनने का काम साल 2021 में पूरा हो जाएगा। 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' की ऊंचाई जहां 182 मीटर है वहीं शिवाजी के स्टैच्यू की ऊंचाई 212 मीटर होगी। जो सरदार की विशाल मूर्ति से 30 मीटर ज्यादा होगी।


तीसरे नंबर पर है अयोध्या में बनने वाली राम मूर्ति। जी हां उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार ने प्रस्तावित राम मूर्ति की तस्वीर जारी करते दी है। श्रीराम की यह मूर्ति 151 मीटर ऊंची है, जो अयोध्या में बनाई जानी है। भगवान राम की इस मूर्ति के बारे में कहा जा रहा है ये स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से भी ऊंची बनेगी।


दरअसल भगवान राम की मूर्ति की ऊंचाई 151 मीटर होगी, लेकिन इसके ऊपर 20 मीटर ऊंचा छत्र और 50 मीटर का आधार (बेस) होगा। यानी मूर्ति की कुल ऊंचाई 221 मीटर होगी। जो स्टैच्यू ऑफ यूनिटी से 39 मीटर ऊंची होगी। वहीं शिवाजी के स्टैच्यू से 9 मीटर ऊंची हो सकती है।