Follow us:

फोटोग्राफर मर्डर केस: अंकित की हत्‍या से 9 मिनट पहले का वीडियो आया सामने

नई दिल्ली। दिल्ली के ख्याला थाने के अंतर्गत आने वाले रघुबीर नगर इलाके में 23 वर्षीय हिन्दू लड़के अंकित की मौत के मामले में दो नए वीडियो सामने आए हैं. एक वीडियो अंकित की मौत से नौ मिनट पहले का है. वहीं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने रविवार को मृतक अंकित के पिता से मुलाकात कर उनके परिवार को आश्वस्त किया कि उनकी सरकार उन्हें न्याय दिलाने का हरसंभव प्रयास करेगी. पश्चिमी दिल्ली के ख्याला इलाके में गुरुवार की रात को 23 वर्षीय अंकित की कथित तौर पर उसकी प्रेमिका के परिवार वालों ने हत्या कर दी थी. पिछले तीन साल से उन दोनों का संबंध चल रहा था।

सीसीटीवी फुटेज में अंकित काले रंग की जैकेट में नजर आ रहा है. वह किसी से फोन पर बात कर रहा है. सीसीटीवी फुटेज में अंकित एक मिनट तक दिखाई दे रहा है. यह वीडियो रात आठ बजकर चार मिनट से लेकर आठ बजकर पांच मिनट के बीच का है.वहीं दूसरे वीडियो में भगदड़ के दिख रही है.

 

अंकित फोटोग्राफी का काम करता था और वह दफ्तर से घर लौट रहा था तभी घर के पास चौराहे पर अंकित की मुस्लिम युवती दोस्‍त के परिवारवालों ने उसको घेरकर पहले मारपीट की और फिर उसके गले पर चाकू से वार कर दिया जिससे उसकी मौत हो गई थी. हमले की खबर सुनकर अंकित की मां कमलेश भी मौके पर पहुंच गईं. आरोप है कि उनके सामने ही उनके बेटे की गला रेतकर हत्या कर दी गई. लड़की के परिवार वालों ने उनके साथ भी मारपीट की।

असल में अंकित अपने परिवार के साथ रघुबीर नगर की जिस कॉलोनी में रहता था उसी कॉलोनी में कुछ साल पहले एक लड़की रहती थी. उन दोनों की दोस्ती थी. कुछ साल पहले लड़की के घर वाले कहीं और शिफ्ट हो गए और वे इस दोस्ती से खुश नहीं थे. कत्ल के पीछे भी यही वजह बताई जा रही है. पुलिस ने लड़की की मां, पिता, भाई और मामा समेत एक नाबालिग भाई को गिरफ्तार किया है।

वहीं भाजपा की दिल्ली इकाई के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने इस मामले में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की ‘चुप्पी’ पर सवाल उठाए. प्रदेश भाजपा ने मांग की है कि केजरीवाल सरकार ने अन्य मामलों में जिस तरह एक करोड़ रुपए की सहायता राशि घोषित की है, उसी तरह अंकित के परिजन के लिए सहायता राशि घोषित करे।