Follow us:

अमेरिकी Air Strike के बाद तेल की कीमतों में आया उछाल, इस वजह से तेजी से बढ़े दाम

नई दिल्ली। इराक के बगदाद एयरपोर्ट पर अमेरिका की टारगेटेड एयर स्ट्राइक (Targeted Air Strike) के बाद अंतर्राष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमतों में उछाल आ गया है। अमेरिकी एयर स्ट्राइक के बाद आज तेल के दाम 4 फीसदी तक बढ़ गए हैं। अमेरिका की ओर से की गई Air Strike में ईरान की क्वाड्स फोर्स के प्रमुख जनरल कासिम सुलेमानी (General Qassem Soleimani) की मौत हो गई है। इसके साथ ही इराक कमांडर अबु महदी अल-मुहांदिस की भी इस हमले में जान चली गई है। इस घटना की पुष्टि होने के बाद से ही क्रूड ऑइल की कीमतों में उछाल आ गया है। बता दें कि ईरान बड़े तेल उत्पादक देशों में से एक है। ऐसे में इस घटना के बाद आने वाले दिनों में क्रूड ऑइल के दामों में और इजाफा होने की आशंका है।

बता दें कि आज ब्रेंट क्रूड ऑइल की कीमत 4.4 प्रतिशत बढ़कर 69.16 यूएस डॉलर हो गई, वहीं WTI 4.3 फीसदी उछलकर 63.84 यूएस डॉलर पर आ गया। गुजरते वक्त के साथ इसकी कीमत और बढ़ने की आशंका जताई जा रही है।

ट्रंप के आदेश पर हुई Air Strike

विशेषज्ञों का मानना है कि अमेरिका द्वारा ईरान की क्वाड्स फोर्स के प्रमुख को मारने के बाद यह कीमतें और बढ़ेंगी। बता दें कि यूएस की इस एयर स्ट्राइक में ईरानी जनरल के साथ ही इराक के कमांडर सहित 6 अन्य लोगों की मौत हो गई थी। गौरतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ईरानी जनरल कासिम सुलेमानी को मारने के लिए टारगेटेड एयर स्ट्राइक करने का आदेश दिया था। पेंटागन की ओर से कहा गया कि ईरानी जनरल अमेरिकी डिप्लोमेट्स पर हमले की बड़ी योजना बना रहा था। वह लगातार अमेरिका के खिलाफ प्लानिंग कर रहा था।

भारत में दिख सकता है असर

अमेरिकी एयर स्ट्राइक के बाद अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में उछाल आ गया है। इसका असर अन्य देशों के साथ भारत पर भी पड़ेगा। देश में पेट्रोल, डीजल के दामों में इजाफा हो सकता है। भारत अरब देशों के साथ ही ईरान से भी क्रूड ऑइल का आयात करता रहा है, हालांकि कुछ वक्त पहले अमेरिकी प्रतिबंध के बाद भारत द्वारा ईरान से तेल लेना बंद कर दिया गया था।

Related News