Follow us:

Iraq में लगातार दूसरे दिन अमेरिका का हमला, आगबबूला हुआ Iran

US और Iran के बीच तनाव बढ़ता जा रहा है। शुक्रवार को अमेरिका ने इराक की राजधानी बगदाद के एयरपोर्ट पर हवाई हमला कर ईरान के टॉप कमांडर मेजर जनरल कासिम सुलेमानी (Qasem Soleimani) को मौत के घाट उतार दिया था। इसके अगले दिन शनिवार सुबह फिर हमले किए गए, जिनमें 6 लोगों की मौत की सूचना है। ये हमले Qasem Soleimani के अंतिम संस्कार से पहले हुए हैं। इस बीच अमेरिका राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की ओर से बयान जारी किया गया है कि अमेरिका और ईरान के बीच तनाव खत्म करने के लिए ही Qasem Soleimani को मौत के घाट उतारा गया है। बहरहाल, ईरान बौखलाया हुआ है और कह चुका है कि वह अमेरिका को मुंहतोड़ जवाब देगा। सुलेमानी की मौत से पैदा हुए तनाव को देखते हुए अमेरिका ने पश्चिम एशिया में 3500 अतिरिक्त सैनिकों को भेजा है।

इससे पहले शुक्रवार को ड्रोन से किए गए हमले में कासिम सुलेमानी के सलाहकार और इराकी मिलिशिया कताइब हिजबुल्ला के कमांडर अबू महदी अल-मुहंदिस की भी मौत हो गई है। अमेरिका ने कासिम सुलेमानी को आतंकी घोषित कर रखा था।

Nankana Sahib गुरुद्वारे पर हमले के अगले दिन नगर कीर्तन पर रोक: पाक मीडिया
Nankana Sahib गुरुद्वारे पर हमले के अगले दिन नगर कीर्तन पर रोक: पाक मीडिया
यह भी पढ़ें

कासिम सुलेमानी की मौत की पुष्टि करते हुए अमेरिकी रक्षा मंत्रालय ने कहा कि राष्ट्रपति ट्रंप के निर्देश पर अमेरिकी सेना ने विदेश में तैनात अपने सैनिकों की रक्षा के लिए सुरक्षात्मक कार्रवाई करते हुए कासिम सुलेमानी को मार गिराया। यह कार्रवाई ईरान को आगामी हमले की साजिश करने से रोकने के लिए की गई।

वहीं ईरान के रिवोल्यूशनरी गार्ड्स ने कहा, बगदाद एयरपोर्ट पर अमेरिकी हेलीकॉप्टरों के हमले में महान कमांडर कासिम सुलेमानी शहीद हो गए। इराक में ईरानी राजदूत इराज मस्जिदी ने कहा कि अमेरिकी बलों ने मिसाइलों से दो वाहनों को निशाना बनाया। इन वाहनों में सवार सुलेमानी समेत सभी दस लोग शहीद हो गए।