Follow us:

चैरिटी के लिए प्रसिद्ध हैं दिलों पर राज करने वाले ये क्रिकेटर

भले ही आप क्रिकेट में बेहतरीन प्रदर्शन कर कई बड़े रिकॉर्डस अपने नाम कर रखे हों, फिर भी मानवता एक ऐसी चीज है जो आपके ख्याति को चिरंजीवी बना देती है। जानिए ऐसे ही कुछ क्रिकेटर्स के बारे में जिनके चैरिटी के कारण बड़ी संख्या में लोग लाभ उठा रहे हैं।

इयान बाथम- इंग्लैंड का यह पूर्व आलराउंडर चैरिटी के लिए कई काम कर चुके हैं। उन्होंने 12 लंबी दूरी की चैरिटी पैदल यात्रा में भाग लिया है। इयान बाथम ने अपने चैरिटी कार्यों से 12 मिलियन यूरो की राशि जुटाई है जिससे ल्यूकेमिया रोग के अनुसंधान और निदान में सहायता मिल रही है।

इमरान खान- पाकिस्तान के होने वाले प्रधानमंत्री और पूर्व दिग्गज क्रिकेटर इमरान खान भी अपने चैरिटी कार्य के लिए पूरी दुनिया में प्रसिद्ध हैं। इमरान ने साल 1994 में अपनी मां की याद में शौकत खानम मेमोरियल ट्रस्ट की स्थापना की। इमरान ने 25 मिलियन डॉलर की सहायता से प्रसिद्ध चैरिटेबल कैंसर हॉस्पिटल बनाया है।

स्टीव वॉ- ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर स्टीव वॉ खेल के अलावा अपने चैरिटेबल काम से भी प्रसिद्धि कमा रहे हैं। खेल से संन्यास लेने के बाद स्टीव वॉ ने 300 से ज्यादा लेप्रोसी से पीड़ित रोगियों की मदद कर रहे हैं। वर्ष 1986 के बाद से स्टीव वॉ 60 बार से ज्यादा भारत की यात्रा पर आ चुके हैं।

ग्लैन मैग्रा- ऑस्ट्रेलिया के इस मशहूर गेंदबाज ने भी चैरिटी के काम से बहुत नाम कमाया है। ग्लैन की पत्नी का निधन 31 साल की आयु में ब्रैस्ट कैंसर से हुआ था। आज के समय में मैग्रा फाउंडेशन ऑस्ट्रेलिया में ब्रैस्ट कैंसर के उपचार के लिए सबसे ज्यादा काम कर रहा है।

युवराज सिंह- कैंसर जैसी गंभीर बीमारी से निजात पा चुके भारतीय क्रिकेटर युवराज सिंह भी चैरिटी के मामलों में काफी काम कर रहे हैं। कैंसर के खिलाफ लड़ाई के लिए युवराज सिंह ने यू वी कैन फाउंडेशन की स्थापना की है। यह एनजीओ कैंसर के खिलाफ जागरुकता फैलाने के साथ लोगों को रूटिन हेल्थ चेकअप के लिए प्रेरित करता है।

शाहिद अफरीदी- पाकिस्तानी क्रिकेटर शाहिद अफरीदी भी चैरिटी के काम के लिए वर्ष 2014 में शाहिद अफरीदी फाउंडेशन की स्थापना की थी। यह फाउंडेशन पाकिस्तान में बेहतरीन मेडिकल फैसिलिटी मुहैया करा रही है।