Follow us:

किसी भी पुराने फीचर फोन के बदले 501 रुपये में मिलेगा जियोफोन

नई दिल्ली। रिलायंस जियो ने फीचर फोन उपभोक्ताओं के लिए जियो फोन मानसून हंगामा नाम से नई स्कीम का एलान किया है। इसके तहत जियो ग्राहक किसी भी पुराने फीचर फोन (किसी भी कंपनी का सामान्य मोबाइल फोन) के बदले 501 रुपये की कीमत में नया जियो फोन पा सकते हैं। इसके अलावा कंपनी 15 अगस्त से 2999 रुपये की शुरुआती कीमत पर जियो फोन-2 का ऑफर भी देने जा रही है।

जियो की मूल कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी की पुत्री ईशा और पुत्र आकाश अंबानी ने कंपनी की 41वीं सालाना आम बैठक में जियो फोन-2 लांच किया। यह फोन बाजार में 15 अगस्त से मिलेगा। किसी भी फीचर फोन के बदले 501 रुपये देकर जियोफोन-1 लेने की सुविधा 21 जुलाई से उपलब्ध होगी।

जियो फोन के दस करोड़ नए ग्राहक बनाकर विश्व रिकॉर्ड कायम करने का लक्ष्य निर्धारित करने के साथ 1100 शहरों में घरों, कारोबारियों, छोटे, मझोले और बड़े उद्यमों के लिए सबसे एडवांस फाइबर आधारित ब्रॉडबैंड कनेक्टिविटी सॉल्यूशन प्रदान करने का एलान किया।

आम बैठक को संबोधित करते हुए मुकेश अंबानी ने कहा कि भारत में अभी भी फीचर फोन के ग्राहक बड़ी संख्या में हैं। अभी भी 50 करोड़ भारतीय फीचर फोन का इस्तेमाल कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि केवल 22 महीनों में जियो का ग्राहक आधार बढ़कर 21.50 करोड़ हो गया है। इसमें जियो फोन के ढाई करोड़ ग्राहक शामिल हैं। यह ऐसा रिकॉर्ड है जिसे विश्व की कोई भी कंपनी हासिल नहीं कर सकी है। अब हम जियो फोन की क्षमता और कार्यकुशलता को बढ़ाकर अगले स्तर पर ले जा रहे हैं।

गौरतलब है कि 15 वर्ष पहले रिलायंस इन्फोकॉम ने मानसून हंगामा ऑफर देकर 500 रुपये में फोन लांच किया था। जियो गीगा फाइबर सेवा उन्होंने कहा कि 1100 शहरों में एडवांस फाइबर आधारित ब्रॉडबैंड कनेक्टिविटी के तहत व्यापारियों और छोटे उद्यमियों को फिक्स्ड लाइन ब्रॉडबैंड के जरिये घरों और दफ्तरों में बड़े स्क्रीन पर अल्ट्रा हाई डेफिनिशन एंटरटेनमेंट, लिविंग रूम में मल्टी पार्टी वीडियो कांफ्रेंसिंग, वॉइस-एक्टिव वर्चुअल असिस्टेंस तथा वर्चुअल रियलिटी गेमिंग और डिजिटल शॉपिंग की सुविधा मिलेगी।

इससे वैश्विक बाजार में प्रतिस्पर्धा करने के साथ डिजिटल टूल्स और तकनीक का इस्तेमाल कर चौथी औद्योगिक क्रांति को बढ़ावा देने में मदद मिलेगी। इस फाइबर बेस्ड ब्रॉडबैंड सेवा को 'जियो गीगा फाइबर' नाम देते हुए मुकेश अंबानी ने कहा कि 'एमबीपीएस के दिन लद गए, अब जीबीपीएस का जमाना होगा।

आपके घर में वॉल-टू-वॉल कवरेज होगा, हर उपकरण, प्लग प्वाइंट, स्विच स्मार्ट बन जाएगा। आप चौबीसों घंटे और सातों दिन सुरक्षा निगरानी और अलर्ट देने वाले कैमरे लगा सकेंगे।' ऑनलाइन टू ऑफलाइन कॉमर्स प्लेटफार्म रिलायंस ने ई-कॉमर्स और रिटेल के क्षेत्र में अमेजन और वालमार्ट जैसी कंपनियों की रणनीति के मुकाबले खड़े होने के भी संकेत दिए हैं।

अंबानी ने कहा कि कंपनी हाईब्रिड ऑनलाइन टू ऑफलाइन नए कॉमर्स प्लेटफार्म क्रियेशन में ग्रोथ देखती है। इसमें रिलायंस रिटेल के 35 करोड़ ग्राहक (फुटफॉल), 21.5 करोड़ जियो ग्राहक, पांच करोड़ जियो गीगा होम ग्राहक और तीन करोड़ छोटे व्यापारी और दुकानदार होंगे। उन्होंने कहा कि रिलायंस फाउंडेशन का रूरल ट्रांसफॉर्मेशन इनिशिएटिव किसानों के लिए बेहतर मार्केट लिंकेज तैयार करने पर केंद्रित है। 15 राज्यों के 13500 गांवों तक इसका फायदा पहुंच रहा है।

अंबानी की भावी बहू ने भी बैठक में हिस्सा लिया

मुकेश अंबानी की भावी पुत्र वधू श्लोका मेहता ने पहली बार रिलायंस इंडस्ट्रीज की आम बैठक में हिस्सा लिया। मुकेश के बड़े बेटे आकाश की सगाई पिछले हफ्ते 27 वर्षीय श्लोका के साथ हुई थी। वह अंबानी के छोटे बेटे अनंत और उनकी दादी कोकिलाबेन अंबानी के बीच में पहली पंक्ति में बैठी दिखाई दीं।