Follow us:

उत्तराखंड में भारी बारिश की चेतावनी, प्रशासन अलर्ट

रुद्रप्रयाग। उत्तराखंड में एक बार फिर से मौसम विभाग ने पहाड़ी जिलों में भारी वर्षा की चेतावनी दी है जिसको लेकर प्रशासन पूरी तरह सतर्क है। राज्य के पहाड़ी इलाकों में मौसम विभाग की भविष्यवाणी सच साबित होती दिखाई पड़ रही है। कई जगह बारिश होने से मौसम सुहावना हो गया है। मौसम विभाग ने रुद्रप्रयाग, चमोली, उत्तरकाशी, टिहरी, पिथौरागढ़ आदि जनपदों में भारी बारिश होने की चेतावनी दी थी। पिछले कुछ समय से मौसम विभाग की भविष्यवाणी सच साबित हो रही है। जब भी मौसम विभाग बारिश होने की भविष्यवाणी कर रहा है, तब-तब बारिश हो रही है।

विभाग ने खासकर चारधाम यात्रा मार्गों पर सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं। पूर्व में हुई बारिश के कारण चारधाम यात्रा पर आने वाले तीर्थ यात्रियों की संख्या में बेहद कमी आने से यात्रा धीमी हुई है। जून प्रथम सप्ताह में अकेले केदारनाथ यात्रा पर प्रत्येक दिन लगभग 15 हजार तक यात्री आ रहे थे, लेकिन इन दिनों यात्रियों की संख्या दो हजार पर सिमट कर रह गई है। इस बार मौसम विभाग ने 20 जून तक भारी बारिश होने की चेतावनी दी है। मौसम विभाग की चेतावनी के बाद प्रशासन भी सतर्क हो गया है। मानसून सीजन की पहली बारिश से निपटने के लिए प्रशासन भी तैयार हो गया है, क्योंकि मानसून की बारिश में काफी नुकसान होता है।

बाबा केदार की तीर्थ यात्रा पर आने वाले यात्रियों की सुविधा के लिए प्रशासन ने पूरे इंतजाम किए हैं। केदारनाथ हाईवे पर जगह-जगह भूस्खलन वाले क्षेत्रों में जेसीबी-पोकलैंड आदि मशीनें तैनात की गई हैं। साथ ही केदारनाथ पैदल यात्रा मार्ग पर जगह-जगह सेक्टर मजिस्ट्रेटों, पुलिस, एसडीआरएफ और पीआरडी के जवानों की तैनाती की गई है। जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने बताया कि मौसम विभाग की बारिश की भविष्यवाणी के बाद प्रशासन सतर्क हो गया है। खासकर केदारनाथ यात्रा पर आने वाले तीर्थ यात्रियों की सुरक्षा के लिये विशेष इंतजाम किए गए हैं। कही भी तीर्थ यात्रियों को दिक्कतें नहीं होने दी जाएंगी।