Follow us:

सोशल मीडिया : वॉट्सऐप इस साल भारत में पेमेंट सर्विस शुरू कर सकती है, देश में इसके 40 करोड़ यूजर

पिछले साल 10 लाख यूजर के साथ टेस्टिंग शुरू की थी, इस महीने पूरी होने की उम्मीद

कंपनी के ग्लोबल हेड ने कहा- फंड ट्रांसफर को मैसेज भेजने जितना आसान बनाना चाहते हैं

2 महीने पहले कहा था- आरबीआई के नियम पूरे करने के बाद ही सर्विस लॉन्च करेंगे

नई दिल्ली। वॉट्सऐप के ग्लोबल हेड विल कैथकार्ट का कहना है कि उनकी कंपनी इस साल भारत में पेमेंट सर्विस शुरू कर सकती है। भारत दौरे पर आए कैथकार्ट ने गुरुवार को एक इवेंट में यह बात कही। उनका कहना है कि वॉट्सऐप फंड ट्रांसफर को भी मैसेज भेजने जितना आसान बनाना चाहती है। वॉट्सऐप पिछले साल से करीब 10 लाख यूजर के साथ पेमेंट सर्विस की टेस्टिंग कर रही है। देशभर में इसके 40 करोड़ यूजर हैं।

वॉट्सऐप के पेमेंट प्लेटफॉर्म पर सुरक्षित नहीं होने के आरोप लगे थे
पेमेंट सर्विस में वॉट्सऐप का मुकाबला भारत में पेटीएम, फोनपे और गूगल पे जैसी कंपनियों से होगा। फेसबुक ग्रुप की कंपनी वॉट्सऐप के दुनियाभर में 150 करोड़ यूजर हैं। कंपनी भारत के अलावा अन्य बाजारों में भी पेमेंट सर्विस शुरू करने पर विचार कर रही है।

वॉट्सऐप को भारत में पेमेंट सर्विस शुरू करने के लिए सत्यापन (ऑथेंटिकेशन) और डेटा स्टोरेज की चिंताओं जैसी चुनौतियों से जूझना पड़ रहा है। प्रतिद्वंदी कंपनियां आरोप लगा चुकी हैं कि वॉट्सऐप का पेमेंट प्लेटफॉर्म उपभोक्ताओं के लिए जोखिम भरा है। यह तय नियमों के मुताबिक भी नहीं है।

पिछले साल अक्टूबर में वॉट्सऐप ने कहा था कि आरबीआई के नियमों के मुताबिक उसने पेमेंट संबंधी डेटा भारत में ही स्टोर करने का सिस्टम तैयार कर लिया है। इस साल मई में कंपनी ने सुप्रीम कोर्ट में कहा था कि जुलाई तक पेमेंट सर्विस का ट्रायल पूरा होने की उम्मीद है लेकिन, वह आरबीआई के नियमों का पालन किए बिना सर्विस लॉन्च नहीं करेगी।

 


Related News