Follow us:

WhatsApp ला रहा नया फीचर, बिना परमिशन ग्रुप में नहीं कर पाएगा कोई शामिल

नई दिल्ली। मोबाइल नेटवर्किंग साइट WhatsApp के डिजाइन में हाल ही बदलाव की खबर आई थी। अब फेसबुक के मालिकाना हक वाली कंपनी एक और नया फीचर लेकर आने वाली है। इसके बाद जो लोग व्हाट्सएप ग्रुप्स की वजह से बेहद परेशान रहते हैं उन्हें बड़ी राहत मिलेगी। इस फीचर के आने के बाद आप तय कर सकेंगे के आपको कौन से ग्रुप में जुड़ना है और कौन से में नहीं।

कई यूजर्स इस बात को लेकर परेशान रहते हैं कि उनकी बिना मर्जी उन्हें ग्रुप में एड कर दिया जाता है। फिलहाल उन्हें यह सुविधा है कि वो ग्रुप में शामिल किए जाने के बाद इससे बाहर हो सकते हैं। अपने यूजर्स की इसी परेशानी को देखते हुए WhatsApp एक नए फीचर को रोलआउट करने की तैयारी कर रही है।

इस फीचर के तहत यूजर्स आसानी से तय कर पाएंगे कि उन्हें ग्रुप में जोड़ा जाया या नहीं। यह फीचर संभवत: इनविटेशन के आधार पर काम करेगा। फिलहाल इस फीचर की टेस्टिंग iOS प्लेटफॉर्म पर चल रही है। खबरों के मुताबिक, इसे जल्द ही बीटा वर्जन में उपलब्ध कराया जाएगा।

WhatsApp ग्रुप इनविटेशन फीचर

इसकी टेस्टिंग फिलहाल iOS पर चल रही है। लेकिन इसे एंड्रॉइड में भी टेस्ट किया जाएगा। यह जानकारी WABetaInfo द्वारा दी गई है। ग्रुप इनविटेशन कंट्रोल फंक्शन अभी इनएक्टिव स्टेट में है। ऐसा इसलिए क्योंकि यह फिलहाल डेवलपमेंट स्टेज में है। इस फीचर को इस्तेमाल करने के लिए यूजर्स को WhatsApp की सेटिंग्स में जाना होगा। इसके बाद Account में जाकर Privacy पर टैप करना होगा। यहां आपको Groups सेक्शन में जाकर इस फीचर को अपने हिसाब से मॉडिफाई कर सकते हैं।

Groups में तीन विकल्प दिए जाएंगे। पहला Everyone, दूसरा My Contacts और तीसरा Nobody होगा। ये तब एक्टिव होंगे जब यूजर को कोई किसी ग्रुप में जोड़ने की कोशिश करेगा। Everyone करने पर कोई भी यूजर को किसी भी ग्रुप में जोड़ पाएगा। My Contacts को चुनने पर यूजर की कॉन्टेक्ट लिस्ट में मौजूद लोग ही उसे ग्रुप का हिस्सा बना पाएंगे। ग्रुप के लिए यूजर के पास जो इनविटेशन आएगा उसे यूजर चाहें तो एक्सेप्ट या डिक्लाइन कर सकता है।

तीसरा विकल्प Nobody होगा। इसे एक्टिव करने के बाद कोई भी यूजर को किसी भी WhatApp ग्रुप का हिस्सा नहीं बना पाएगा। इसे इनेबल करने के बाद अगर कोई ग्रुप एडमिन किसी यूजर को ग्रुप इनवाइट भेजता है तो यूजर को इस इनविटेशन पर 72 घंटों में एक्सेप्ट या रिजेक्ट करना होगा।

 

Related News