Follow us:

भोपाल-इंदौर-उज्जैन के अलावा ये 11 जिले भी पूरी तरह सील, बाहर निकले तो होगी FIR

भोपाल। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मध्य प्रदेश के 14 जिलों को पूरी तरह सील कर दिया गया है. इंदौर, भोपाल, जबलपुर, ग्वालियर, शिवपुरी, उज्जैन, खरगौन, मुरैना, छिंदवाड़ा, बडवानी, बैतूल, विदिशा, श्योपुर और खंडवा अलगे आदेश तक पूरी तरह लॉकडाउन रहेंगे. इन जिलों में स्थानीय प्रशासन को आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित करने की जिम्मेदारी सौंपी गई है, जिससे आम लोगों को परेशानी का सामना न करना पड़े.

मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण को जानबूझकर छिपाने वाले व्यक्ति पर एफआईआर दर्ज करने और दंडात्मक कार्रवाई करने का आदेश दिया है. सील किए गए 14 इन जिलों में आवाजाही पूर्णत: प्रतिबंधित रहेगी. बीते बुधवार को प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं नियंत्रण व्यवस्थाओं की समीक्षा के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश दिए कि इस महामारी के खिलाफ लड़ाई में जरूरत पड़ने पर सभी शासकीय विभागों और उनके पास मौजूद संसाधनों की सेवाएं ली जाएं.

आपको बता दें कि कोरोना वायरस का संक्रमण मध्य प्रदेश के 14 जिलों में अपने पैर पसार चुका है. इंदौर कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित है. इसके बाद भोपाल का नंबर आता है. मध्य प्रदेश के कुल कोरोना संक्रमित मरीजों में से लगभग 80 फीसदी इन्हीं दो शहरों से हैं. मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्‍या 390 हो गई है. राज्य में कोरोना वायरस से अब तक 30 मौतें हुई हैं.

ताजा आंकड़ों के मुताबिक भोपाल में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़कर 94 हो गई है, इनमें चिकित्सकों सहित स्वास्थ्य विभाग के 40 कर्मचारी और एक नगर पुलिस अधीक्षक सहित 12 पुलिसकर्मी भी शामिल हैं. इसके अलावा मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी कहे जाने वाले इंदौर में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 213 पहुंच गई है. इंदौर में कोरोना वायरस के संक्रमण के चलते 21 लोगों की मौत हुई है, 14 मरीज ठीक होकर अस्पताल से छुट्टी पा चुके हैं.

 

Related News