Follow us:

शिवराज ने जमातियों को दिया 24 घंटे का अल्टीमे​टम, छुपे हुए सदस्य सामने नहीं आए तो होगी कार्रवाई

भोपाल। दिल्ली के निजामुद्दीन में तबलीगी जमात के एक कार्यक्रम में शामिल लोगों को चेतावनी देते हुए मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि यदि इसमें शामिल लोगों ने अगले 24 घंटे के अन्दर स्वयं प्रशासन को अपनी जानकारी नहीं दी तो प्रदेश सरकार उनके खिलाफ आपराधिक प्रकरण दर्ज कर उचित कानूनी कार्रवाई करेगी। कार्यक्रम में शामिल सैकड़ों सदस्य कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं और कई लोगों की जान भी गई है।

चौहान ने ट्वीट किया, '' मध्य प्रदेश से निज़ामुद्दीन मरकज़ में गये सभी नागरिकों और विदेश से आ कर मस्जिदों में छुपे लोगों की पहचान कर सबको प्रशासन ने पृथक कर दिया है।'' उन्होंने कहा, ''इसके बाद भी अगर कोई कहीं छुपा हुआ है, तो मेरा उनसे आग्रह है कि अगले 24 घंटे के अन्दर वे स्वयं प्रशासन को इसकी जानकारी दें।'' चौहान ने आगे लिखा, ''ऐसा न करने पर देश और प्रदेश की सुरक्षा संकट में डालने के आरोप में उन पर प्रशासन द्वारा आपराधिक प्रकरण दर्ज कर उचित कानूनी कार्रवाई की जाएगी।''

इंदौर के बाद मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल भी कोरोना वायरस का केंद्र बन गया है। यहां कारोना वायरस के 8 नए मरीज सामने आए हैं। इन्हें मिलाकर भोपाल में कोरोना पॉजिटिव लोगों की संख्या 91 पहुंच गई है। यहां चौंकाने वाली बात यह है कि भोपाल का एक पत्रकार एक बार फिर कोरोना से पॉजिटिव पाया गया है। वहीं राज्य की बात करें तो यहां कोरोना वायरस से पॉजिटिव लोगों की संख्या 326 पहुंच गई है। जिसमें 23 लोगों की मौत हो चुकी है।

राज्य में कोरोना का हॉटस्पॉट इंदौर शहर है। यहां पर 173 लोग कोरोना टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए हैं। राज्य में हुई 23 मौतों में सबसे ज्यादा 15 मौत इसी शहर में हुई हैं। इसके अलावा राज्य का मुरैना जिला भी कोरोना के केंद्र के रूप में उभरा है। यहां कोरोना के 12 मामले सामने आ चुके हैं। वहीं उज्जैन में भी 13 कोरोना पॉजिटिव सामने आए हैं और 5 लोगों की मौत हो गई है।

 

Related News