Follow us:

कोरोना वायरस : दिल्ली के 63 फीसदी मामले तब्लीगी जमात से जुड़े, स्वास्थ्य मंत्री बोले- अभी थर्ड स्टेज नहीं

नई दिल्ली। कोरोना संक्रमण के लिहाज से अहम माने जा रहे दिल्ली के बीस इलाकों को सील कर दिया गया है। इसमें मालवीय नगर, संगमविहार, द्वारका, निजामुद्दीन, वसुंधरा इन्क्लेव, मंडावली, विनोद नगर और किशनकुंज के इलाके शामिल हैं। दिल्ली सरकार ने यह कड़ा फैसला बुधवार को लिया। बुधवार शाम तक दिल्ली में कोरोना के 669 मामले सामने आ चुके थे।

इसमें सबसे ज्यादा 426 मामले (कुल के 63 फीसदी से अधिक) निजामुद्दीन तब्लीगी जमात मरकज से जुड़े पाए गए हैं। कुल मामलों में बाहर से यात्रा करके देश में आने वाले 214 मामले शामिल हैं। इनमें 558 लोगों को दिल्ली के विभिन्न सरकारी अस्पतालों में इलाज दिया जा रहा है। नौ लोगों की कोरोना के कारण मौत हो चुकी है, जबकि 20 लोग स्वस्थ होने के उनके घर भेज दिए गए हैं।

अस्पतालों में यह है स्थिति
दिल्ली सरकार कोरोना संक्रमित लोगों का एलएनजेपी, जीटीबी, दीन दयाल उपाध्याय, राम मनोहर लोहिया सहित कई अन्य अस्पतालों में इलाज करवा रही है। इनकी 2376 की क्षमता है, 558 कोरोना पॉजिटिव लोगों का इलाज चल रहा है, जबकि 1052 लोगों को विभिन्न अस्पतालों में भर्ती किया गया है।

28 लोगों को आईसीयू में भर्ती किया गया है जबकि केवल छह लोगों को वेंटिलेटर पर रखा गया है। 15 लोग ऐसे हैं जो इस समय ऑक्सीजन पर चल रहे हैं। एक तरह से कहा जा सकता है कि दिल्ली में बहुत गंभीर बीमार लोगों की संख्या अभी भी कम है।

तीसरी स्टेज में पहुंचने की संभावना नहीं: जैन
दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन ने कहा है कि अभी दिल्ली में कोरोना के तीसरी स्टेज में पहुंचने की संभावना नहीं है। लेकिन आगे भी यह बना रहे, इसके लिए लोगों का सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन करना जरूरी है।

पूर्वी दिल्ली नगर निगम की स्टैंडिंग कमेटी के चेयरमैन संदीप कपूर ने कहा है कि वे दिल्ली को लॉकडाउन में साफ-सुथरा रखने के लिए अपनी ओर से पूरी कोशिश कर रहे हैं, जिससे कोरोना का संक्रमण आगे न बढ़ सके। जिन इलाकों को सील किया गया है, वहां अब किसी को भी प्रवेश की इजाजत नहीं होगी। नगर निगम के विशेष कर्मचारी ही यहां जाकर सफाई कार्य करेंगे।

इसके लिए सरकार ने अपनी टेस्टिंग क्षमता को शुक्रवार से बढ़ाकर एक लाख तक करने का फैसला किया है। फिलहाल, बुधवार तक 9332 लोगों की टेस्टिंग की गई है। इनमें 588 लोगों को कोरोना पॉजिटिव पाया गया है जबकि 7897 लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। 847 लोगों की टेस्ट रिपोर्ट का अभी भी इंतजार किया जा रहा है।

Related News