Follow us:

कोरोना वायरस : भारत में मरीजों की संख्या 606 हुई, 11 लोगों की हो चुकी है मौत

अपडेट्स: 

भारत में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 606 हो गई है. अब तक 43 मरीज ठीक हो चुके हैं और 11 लोगों की मौत हो चुकी है.

केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन ने कहा कि आज राज्य में 9 नए मामले सामने आए हैं. इसी के साथ कोरोना वायरस पॉजिटिव मरीजों की संख्या 118 हो गई है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि 118 सरकारी लैब में कोरोना का टेस्ट हो सकता है. हम 12 हजार टेस्ट रोजाना कर सकते हैं.

इंदौर के कलेक्टर लोकेश जाटव ने कोरोना वायरस से महिला की मौत की पुष्टि की है. उन्होंने कहा कि महिला की उम्र 65 साल थी. मध्य प्रदेश में पहली मौत है.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि डॉक्टर और नर्स को कुछ माकन मालिक निकलने की धमकी दे रहे हैं. ये बर्दाश्त नहीं किया जायेगा, ये डॉक्टर हमारे लिए भगवान से कम नहीं हैं. दिल्ली पुलिस बुरे बर्ताव के लिए कार्रवाई करेगी.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जरूरी सुविधाएं मुहैया करवाने वाले लोगों का सफर करने के लिए पास बनेगा. उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान essential items की सप्लाई में कोई कमी न आए इसलिए हम e-pass का सिस्टम शुरू कर रहे हैं. WhatsApp पर ही पास आ जाएगा. उन्होंने पास संबंधी जानकारी के लिए एक नंबर जारी किया है. यह नंबर है 1031.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 5 नए केस सामने आए हैं. अब 35 केस हो गए हैं. अब हम मामलों को नहीं बढ़ने देना है. इसलिए लॉकडाउन के नियमों का पालन करें और सभी घरों में रहें. सिर्फ जरूरी सामान के लिए मोहल्ले की दुकानों में जाएं.

पीएम मोदी ने कहा कि हमारे समाज में ये संस्कार दिनों-दिन प्रबल हो रहा है कि जो देश की सेवा करते हैं, जो देश के लिए खुद को खपाते हैं, उनका सार्वजनिक सम्मान भी होते रहना चाहिए.

पीएम मोदी ने कहा कि संकट की इस घड़ी में, अस्पतालों में इस समय सफेद कपड़ों में दिख रहा हर व्यक्ति, ईश्वर का ही रूप है. आज यही हमें मृत्यु से बचा रहे हैं, अपने जीवन को खतरों में डालकर ये लोग हमारा जीवन बचा रहे हैं.

पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना वायरस से जुड़ी सही और सटीक जानकारी के लिए सरकार ने WhatsApp के साथ मिलकर एक हेल्पडेस्क भी बनाई है. अगर आपके पास WhatsApp की सुविधा है तो आप इस नंबर 9013151515 पर 'नमस्ते' खिलकर भेजेंगे तो आपको उचित जवाब मिलना शुरू हो जाएगा.

पीएम मोदी ने कहा कि कुछ स्थानों से ऐसी घटनाओं की जानकारी भी मिली है, जिससे हृदय को चोट पहुंची है. मेरी सभी नागरिकों से अपील है कि अगर ऐसी कोई गतिविधि कहीं दिख रही है. कहीं आपको डॉक्टर, नर्स या मेडिकल स्टाफ के साथ कोई बुरा बर्ताव होता दिख रहा हो तो आप वहां जाकर लोगों को समझाएं. समाज के मन में इन सब के लिए आदर सम्मान का भाव होता ही है. डॉक्टर जिंदगी बचाते हैं और हम उनका ऋण कभी नहीं उतार सकते. जिन लोगों ने वुहान में रेस्क्यू ऑपेरेशन किया, मैंने उनको पत्र लिखा था, मेरे लिए वो पल बहुत भावुक थे.

 

Related News