Follow us:

IND vs AUS : भारत की ऐतिहासिक जीत, लगातार दूसरी बार ऑस्ट्रेलिया को टेस्‍ट सीरीज में दी घर में मात

शुभमन गिल, चेतेश्‍वर पुजारा और ऋषभ पंत ने ब्रिस्‍बेन टेस्‍ट के आखिरी दिन अर्धशतकीय पारी खेलकर भारत को ऐतिहासिक जीत दिला दी

नई दिल्‍ली। अजिंक्‍य रहाणे की अगुआई में टीम इंडिया ने ऑस्‍ट्रेलिया में इतिहास रच दिया है. भारत ने चौथे और आखिरी टेस्‍ट में मेजबान ऑस्‍ट्रेलिया को 3 विकेट से मात देकर लगातार दूसरी बार ऑस्‍ट्रेलिया में बॉर्डर गावस्‍कर ट्रॉफी पर कब्‍जा कर लिया. शुभमन गिल, चेतेश्‍वर पुजारा के बाद ऋषभ पंत की शानदार बल्‍लेबाजी के दम पर भारत ने चौथा टेस्‍ट जीता. गिल ने 91, पुजारा ने 56 रन और पंत ने नाबाद 89 रन बनाए. मेजबान ऑस्‍ट्रेलिया ने पहली पारी में 369 रन बनाए थे, जवाब में टीम इंडिया पहली पारी में 336 रन ही बना पाई. इसके बाद भारतीय गेंदबाजों ने दूसरी पारी में मेजबान पर लगाम कस के रखा और 294 रन पर ऑल आउट कर दिया. इस तरह से ऑस्‍ट्रेलिया भारत को जीत के लिए 328 रन का ही लक्ष्‍य दे पाई, जिसे भारत ने आसानी से हासिल की लिया.

मेडन टेस्‍ट शतक से चूके गिल
सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल अपने मेडन टेस्ट शतक से चूक गए, लेकिन उनकी शानदार अर्धशतकीय पारी से भारत ने टी ब्रेक तीन विकेट पर 183 रन बनाकर मेजबान पर दबाव बना लिया था. भारत ने दूसरे सेशन में उनके अलावा कप्तान अजिंक्य रहाणे (24) का विकेट भी गंवाया. इसके बाद चेतेश्‍वर पुजारा ने पंत के साथ मिलकर पारी को संभाला. रोहित शर्मा (सात) के सुबह जल्दी आउट होने के बाद गिल और पुजारा ने दूसरे विकेट के लिये 114 रन की साझेदारी की.

इस 21 वर्षीय बल्लेबाज ने सहजता से कट और ड्राइव लगाए और कुछ शॉर्ट पिच गेंदों खूबसूरत पुल शॉट भी लगाए. उन्होंने अपना दूसरा अर्धशतक पूरा करने के बाद मिचेल स्टार्क के बाउंसर को बैकवर्ड प्वाइंट पर छह रन के लिये भी भेजा. गिल ने नाथन लायन की ऑफ स्टंप से बाहर जाती गेंद को ड्राइव करने की कोशिश में स्लिप में स्टीव स्मिथ को कैच दे दिया. गिल ने 146 गेंदें खेली तथा आठ चौके और दो छक्के लगाए. इसके बाद रहाणे कमिंस की गेंद पर आउट हो गए.

पुजारा और पंत बने ढाल
रहाणे के आउट होने के बाद पुजारा और पंत टीम की ढाल बने. दोनों के बीच 61 रन की साझेदारी हुई. 228 रन के स्‍कोर पर भारत को चेतेश्‍वर पुजारा के रूप में चौथा झटका लगा. पुजारा कमिंस की गेंद पर एलबीडब्‍ल्‍यू आउट हुए. इसके बाद पंत ने जिम्‍मेदारी संभाली और मयंक अग्रवाल के साथ मिलकर 37 रन की साझेदारी की. मयंक अग्रवाल एक बार फिर फ्लॉप रहे और 9 रन बनाकर कमिंस के शिकार बने.मयंक अग्रवाल एक बार फिर फ्लॉप रहे और 9 रन बनाकर कमिंस के शिकार बने.

इसके बाद वाशिंगटन सुंदर ने पंत का दूसरे छोर पर साथ देकर भारत की जीत को लगभग पक्‍का कर दिया. सुंदर 22 रन बनाकर लाथन की गेंद पर बोल्‍ड हो गए. इसके बाद शार्दुल ठाकुर भी 2 रन बनाकर पवेलियन लौट गए. 325 रन पर 7वां झटका लगने के बाद नवदीप सैनी क्रीज पर आए, मगर उस समय स्‍ट्राइक पंत के पास ही थी और पंत ने विजयी चौका जड़कर भारत को ऐतिहासिक जीत दिला दी.

Related News