Follow us:

धार- गुजरात से साढे 9 घंटे की मशक्कत के बाद आरोपी को धार लेकर आई पुलिस, ट्रक खरीदने के दौरान हुई धोखाधडी के मामले में दूसरा आरोपी भी गिरफ्तार

धार। गुजरात के गोधरा से एक आरोपी को लेकर पुलिस टीम धार आई हैं, हालांकि आरोपी को अरेस्ट करने के दौरान पुलिस को काफी मशक्कत का सामना करना पडा। क्योंकि पुलिस के पहुंचते ही आरोपी अपना भंगार का सामान खरीदने के लिए 250 किलो मीटर दूर निकल गया था, ऐसे में पुलिस ने गोधरा में ही आरोपी के पुन आने का इंतजार किया। इस दौरान लगातार आरोपी की लोकेशन सायबर क्राइम टीम की मदद से ली। इस दौरान भी आरोपी की लोकेशन में बार-बार बदलावर हो रहा था, जिसके बाद कल रात में आरोपी जैसे ही गोधरा में स्थित रेलवे स्टेशन पर पहुंचा वैसे ही स्थानिय पुलिस टीम की मदद के बाद आरोपी जुबेर पिता मोबीन को अरेस्ट करके पुलिस टीम सुबह धार पहुंची है। यहां पर गिरफ्तारी की कार्रवाई पूरी करने के साथ ही आरोपी को कोर्ट के समक्ष पेश करके जेल भेज दिया गया है।

दरअसल वर्ष 2019 में धार के शहजाद खान ने अपना ट्रक गुजरात के भंगार व्यापारी सुलेमान मजीद को बेचा था, तब ट्रक क्रमांक एमपी-09 एचएफ-4097 की कीमत को लेकर 3 लाख 50 हजार रुपए में सौदा तय हुआ था। उक्त सौदे में से करीब 1 लाख रुपए आरोपी ने शाहजीद को दिए थे, इस बात की पूरी लिखापढी सौदा पर्ची पर हुई थी। जिसके बाद से ही आरोपी ने शेष रकम नहीं दी व लॉकडाउन लगने के बाद जब धार से रकम लेने के लिए पीडित गोधरा पहुंचा तो आरोपी ने ट्रक व रकम दोनों लौटाने से मना कर दिया। इसी बीच पीड़ित को जानकारी लगी कि उक्त ट्रक आरोपी ने किसी अन्य व्यक्ति को बेच दिया हैं, ऐसे में शाहजीद खान मार्च माह में कोतवाली थाने पर पहुंचा। जहां पर कार्रवाई को लेकर एक आवेदन सौंपा। कोतवाली पुलिस ने 23 मार्च को आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज किया। पिछले 7 माह से आरोपी की तलाश कोतवाली पुलिस कर रही थी, जांच में आरोपी के अपने घर गोधरा आने की जानकारी मिलने के बाद धार से पुलिस टीम गोधरा पहुंची व सुलेमान को चार दिन पहले ही लेकर धार आई थी। आरोपी ने पूछताछ में बताया कि शाहजीद खान से जो ट्रक खरीदा था, उसे गोधरा के ही जुबेर नाम के व्यक्ति को 3 लाख 70 हजार रुपए में बेचा हैं, जिसने उसे करीब 1 लाख 20 हजार रुपए की राशि भी दे दी है। जिसके बाद धोखाधडी में शामिल दूसरे आरोपी जुबेर को भी अरेस्ट किया गया हैं, आरोपी जुबेर ने ट्रक सुलेमान से खरीदने की बात स्वीकार कर ली है। आरोपी को गिरफ्तार करने की कार्रवाई उनि सौरभ शुक्ला, प्रधान आरक्षक सोनु चौहान व आशिफ खान के द्वारा की गई है। टीआई समीर पाटीदार के अनुसार ट्रक बेचने के बाद भी आरोपी के द्वारा धोखाधडी करते हुए रुपए नहीं लौटाए थे, प्रकरण पूर्व में दर्ज किया जा चुका था। एक आरोपी को चार दिन पूर्व व दूसरे आरोपी को अब अरेस्ट कर लिया गया हैं, ट्रक के संबंध में जांच जारी है।

Related News